विकास कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए - धन सिंह रावत

Publish 03-06-2019 18:44:21


विकास कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए - धन सिंह रावत

पौड़ी : प्रदेश के उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सहकारिता एवं प्रोटोकॉल मंत्री डा0 धन सिंह रावत ने आज खिर्सू ब्लाक के सभागार में संबंधित अधिकारियों के साथ श्रीनगर विधान सभा क्षेत्र के जिला योजना के तहत विभिन्न विकास कार्यो की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए, कहा कि विकास कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। कोई भी चीज बनने से लोग उसे युग-युग तक याद रखते है। निरंन्तर योजनाओं को गति प्रदान करें। उन्होने लोनिवि, पेयजल निगम, जल संस्थान, ग्रामीण अभियंत्रण विकास विभाग, लघु सिचाई, पर्यटन एवं शिक्षा विभाग आदि की क्रमवार जिला योजना के विकास कार्यो की समीक्षा की। उन्होने पुराने कार्य को पूर्ण करने तथा जिला प्लान में जिन विभागों के प्रगति संतोषजनक नहीं है। उन विभागों से पूछताछ करने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी पौड़ी को दिये। उन्होने विभागों से जिला योजना के माध्यम से की जाने वाली अच्छे कार्य को प्राथमिकता के आधार पर प्रस्तावित करने को कहा। जिसमें विद्यालय की मरम्मत, फर्निचर, उपकरण, छोटे-छोटे कार्य आदि। वहीं उन्होने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी गांव में पेयजल की समस्या न हो, इसकी ठोस जानकारी अपने पास रखेंगे। उन्होने अधिकारियों से पानी की समस्या वाले गांव की सूचि देने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि उनके द्वारा श्रीनगर विधान सभा में सभी इण्टर कालेजों में ई-लर्निंग कक्षाऐं संचालन हेतु उपकरण दिया गया है। इसके माध्यम से भी बच्चों बेहतर शिक्षा दी जा रही है। कहा कि पौड़ी में विभिन्न विकास योजनाऐ लाई गई है। जल्द ही विकास कार्यो को लेकर पौड़ी में प्रदेश के मुख्य मंत्री त्रिवेन्द्र सिह रावत एक समीक्षा बैठक करेंगे।
मंत्री डा0 रावत ने प्रत्येक ब्लाकों में कलस्टर के माध्यम से किसानों की आय दोगुना करने हेतु कृषि, उद्यान विभाग,सहकारिता समिति बैंक, पर्यटन एवं अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर विस्तृत चर्चा की। जिसमें किसानों को जीरो प्रतिशत पर दिये गये ऋण से कास्तकारों ने अपनी आजीविका को किस तरह मेन्टन कर रहे है। उन्होने खिर्सू को पर्यटन सर्किट से जोड़ने हेतु किये जा रहे समस्त कार्यो की जानकारी ली। कहा कि खिर्सू से लेकर देवलगढ़, धारी देवी, श्रीनगर, सीता माता के जन्म स्थलीय से पौड़ी तक पर्यटन सर्किट बनाया जा रहा है। इस परियोजना का प्रस्ताव भारत सरकार को बजट हेतु भेजा जायेगा। कहा कि खिर्सू में होम स्टे की योजना लॉच करने जा रहे है, जिसकी कार्य प्रगति पर है। जबकि खिर्सू को विकसित करने के लिए जिला योजना के अन्तर्गत मास्टर प्लान बनाये जा रहे है। जिसको लेकर जिलाधिकारी पौड़ी को निर्देश दिया गया है। कहा कि स्थानीय स्तर पर रोजगार को बढावा देते हुए, युवाओं को विभिन्न योजनाओं से लाभावित कर आत्मनिर्भर बनाना उनकी प्राथमिकता है। उन्होने टिहरी लेक महोत्सव की भांति श्रीनगर में लेक (झील) महोत्सव आयोजन कराने हेतु पर्यटन विभाग एवं संबंधित विभाग को रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिये। कहा कि इसके लिए जिलास्तर पर बैठक की जायेगी।  इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी दीप्ति सिंह, पीसीएफ उपाध्यक्ष मातबर सिह रावत, जिलाध्यक्ष सह0 बैंक नरेन्द्र सिह रावत, पूर्व ब्लाक प्रमुख संपत सिह रावत, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, परियोजना प्रबंधक स्वजल दीपक सिह रावत, तहसीलदार सुनील राज सहित संबंधित अधिकारी एवं आम जनमानस उपस्थित थे।

To Top