परिवर्तन पब्लिक स्कूल, कांडा का वार्षिकोत्सव सम्पन्न

Publish 04-05-2019 12:02:04


परिवर्तन पब्लिक स्कूल, कांडा का वार्षिकोत्सव सम्पन्न

कोट/पौड़ी : परिवर्तन  स्कूल के वार्षिकोत्सव के अवसर पर मुख्य अतिथि पदमेन्द्र सिंह बिष्ट, उत्तराखण्ड प्रभारी, हंस कल्चरल सेंटर ने विकास खण्ड कोट मुख्यालय के नजदीक स्थित इस स्कूल के छोटे छोटे बच्चों के द्वारा प्रस्तुत की गई विभिन्न प्रस्तुतियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस क्षेत्र में यह स्कूल जिस प्रकार आधुनिक एवं प्रसांगिक शिक्षा के साथ इन बच्चों का सर्वांगीण विकास कर रहा है सराहनीय है। एक ओर जहां इस क्षेत्र से लगातार गांव के गांव खाली होते जा रहे हैं वहीं यह स्कूल उन परिवारों को यहां रूकने का अवसर प्रदान कर रहा है जो अपने बच्चों को आधुनिक शिक्षा देने के लिए अपने घर गांवो छोड़ने के लिए मजबूर हो रहे थे। उन्होने आगे कहा कि इस स्कूल को हंस कल्चरल सेंटर के द्वारा गोद लिए जाने की घोषणा मैंने तीन वर्ष पूर्व की थी जो अभी तक पूरी नहीं हो पाई है किन्तु निकट भविष्य में इस विद्यालय को हम गोद लेने की प्रक्रिया आरम्भ करेंगे क्यों कि भोले जी महाराज एवं माता मंगला जी के द्वारा 100 विद्यालयों को गोद लिया जाना है जिस कार्यक्रम में यह स्कूल प्रथम चार स्कूलों में है। उन्होंने क्षेत्र की उपस्थित समस्त जनता को आश्वासन दिया कि भले ही देर हो रही है लेकिन यह अवश्य एवं निकट भविष्य में होना है। इस स्कूल को संचालन हेतु फंड, बच्चों को स्कूल यूनिफार्म, बुक्स, शूज दिए जाएंगे तथा स्कूल के द्वारा बच्चों से फीस भी नहीं ली जाएगी। स्कूल को एक वाहन भी उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने स्कूल के प्रधानाचार्य चन्द्र शेखर जुयाल की सराहना करते हुए कहा कि एक ओर जहां इस क्षेत्र से निरंतर पलायन होता जा रहा है वहीं चन्द्र शेखर जुयाल यहां वापस आए हैं और क्षे़त्र में अन्य सामाजिक कार्यों के साथ उत्तम शिक्षा भी प्रदान कर रहे हैं। उन्होने स्कूल के शिक्षकों की भी प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके प्रयासों एवं चन्द्र शेखर जुयाल की गाइडेंश को स्कूल के बच्चौं नें अपनी प्रस्तुतियों में दिखा दिया है।


इस अवसर पर बीडीओ कोट  सुरेद्र प्रसाद नौटियाल ने क्षेत्र में स्कूल की प्रसांगिकता, इसके प्रयासों एवं सभी प्रस्तुतियों की भूरि भूरि प्रसंसा की तथा क्षेत्र की जनता से अनुरोध किया कि वे अपने घर गांव में रूकें और इन उजड़तें गांवों को आबाद रखें जहां श्री जुयाल जी जैसे व्यक्ति एवं उनका पूरा परिवार अपना सर्वस्व क्षेत्र के विकास के लिए अर्पित कर रहा है। उन्होंने स्कूल के बच्चौं के द्वारा दी गयी प्रस्तुतियों की तारीफ करते हुए कहा कि इन्हे देख कर स्कूल के शिक्षकों का स्वतः ही आकलन हो जाता है कि वे इन बच्चों पर कितनी मेहनत कर रहे हैं। अभिभावक संघ की ओर से श्री विकास रौथाण एवं श्री आलोक चारू ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए एवं विद्यालय की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके बच्चों को स्कूल उचित तालीम प्रदान कर रहा है।


स्कूल के प्रिंसीपल चन्द्र शेखर जुयाल ने पदमेन्द्र बिष्ट  का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि स्कूल अपने सीमित संसाधनों से इसका संचालन कर रहा है तथा आशा करता है कि पदमेन्द्र बिष्ट की घोषणा एवं माता मंगला  एवं भोले जी महाराज की कृपा स्कूल पर यथा शीघ्र हो़ . जिससे स्कूल एवं क्षेत्र की निर्धन जनता को राहत मिले और निरंतर बढ़ते पलायन पर थोड़ा तो अंकुश लगेगा। जब स्कूल के साथ हंस कल्चरल सेंटर, भोले जी महाराज एवं माता मंगला का आशीर्वाद मिल जाएगा तो स्वतः ही चार चांद लग जाएंगे।


इस अवसर पर स्कूल के शिक्षक एवं प्रवंधक हिमांशु जुयाल ने भी अपने विचार रखे एवं मुख्य अतिथि पदमेन्द्र बिष्ट  एवं सुरेद्र प्रसाद नौटियाल का आभार व्यक्त किया। मंच का संचालन  मीनाक्षी जोशी बहुगुणा ने किया। स्कूल की संरक्षक  वीना जुयाल एवं स्कूल के अन्य शिक्षक  विनीता जुयाल, चांदनी चौधरी, कल्पना पंवार, ज्योति डबराल, प्रियंका बछेती, दीक्षा पंवार तथा शकुन्तला देवी ने समस्त कार्यक्रमों की तैयारी की। इस कार्यक्रम के सफल संचालन में ग्राम कांडा के ग्राम प्रधान  विनोद बछेती, खिमा नन्द जुयाल, कैलास जुयाल, अरूण डबराल, मनीष बछेती एवं लोगों का भरपूर सहयोग रहा।

To Top