सभी कार्मिकों अपने मोबाइल को जीपीएस मोड पर रखेगे तथा किसी भी दशा में स्वीच ऑफ न करें - जिला मजिस्ट्रेट धीराज सिंह गर्ब्याल

Publish 07-04-2019 18:57:57


सभी कार्मिकों  अपने मोबाइल को जीपीएस मोड पर रखेगे तथा किसी भी दशा में स्वीच ऑफ न करें - जिला मजिस्ट्रेट धीराज सिंह गर्ब्याल

पौड़ी : लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 के तहत आज संस्कृति भवन के प्रेक्षागृह में जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डी.एस. कुंवर ने 02-गढ़वाल संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के जनपद में निर्वाचन प्रक्रिया को निर्विघ्न, निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने हेतु निर्वाचन में तैनात समस्त सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, पुलिस अधिकारी, नोडल ऑफिसर, सैक्टर/जोनल मजिस्ट्रेट एवं मास्टर ट्रेनर को निर्वाचन की तैयारियों को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।


जिला निर्वाचन अधिकारी ने सफलता को हांसिल करने के लिए निरन्तर अभ्यास करने को कहा। कहा कि अभ्यास करने से कार्यों के अच्छे परिणाम आते हैं। उन्होंने तैनात सभी जोनल/सैक्टर मजिस्ट्रेट को अपने पद एवं कर्त्तव्यों की जानकारी रखने तथा कार्यों को सफलतापूर्वक सम्पादन करने को कहा। निर्देशित समयानुसार अनिवार्य रूप से मॉक पोल कराने के बाद मशीन को क्लीन करने के निर्देश दिये। कहा कि ऐसे बूथ जहां नेटवर्क न होने पर एक कार्मिक को सूचना वाहक के रूप में रखे, जो प्रत्येक 02 घंटे की सूचना को पास के नेटवर्क वाले क्षेत्र से सूचना भेजेगें। इस चुनाव में ईवीएम के साथ लगे वीवीपैट मशीन का उपयोग यहां पर प्रथम बार हो रहा है। मशीन की सुरक्षा के महत्वता को ध्यान में रखते हुए निर्वाचन आयोग के निर्देशन पर पोलिंग पार्टियों को भी जीपीएस से जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि तैनात जोनल/सैक्टर मजिस्ट्रेट की जीपीएस के माध्यम से टै्रकिंग किया जा रहा है। सभी कार्मिकों को अपने मोबाइल को जीपीएस मोड पर रखने तथा किसी भी दशा में स्वीच ऑफ न करने के हिदायत दी। उन्होंने सभी तैनात निर्वाचन कार्मिकों को निर्वाचन की मतदान प्रक्रिया को सफलतापूर्वक सम्पादन करने हेतु टिप्स देते हुए अनुभव को भी साझा किया।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने उपस्थित कार्मिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी कार्मिक अपने कार्यों की गुणवत्ता एवं उत्तरदायित्व के प्रति सजग रहें। कहा कि सभी कार्मिक वर्तमान समय में भारत निर्वाचन आयोग के अधीन है तथा इस दौरान की गई गलतियों की सुनवाई नही है। कहा कि अपनी जिम्मेदारियों का स्वमूल्यांकन कर अपने आप को मानसिक, अध्यात्मिक एवं शाररिक रूप से सक्षम रखे। साथ ही सभी टीम भावना के रूप में कार्य करेंगें। निर्वाचन प्रक्रिया में सौंपे गये दायित्वों को बेहत्तर तरीके से पूर्ण करेंगे। उन्होंने पोलिंग प्रक्रिया में सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश का अनुपालन करते हुए कार्य करने को कहा। पोलिंग पार्टियों की रवानगी एवं वापसी, मतदान सामाग्री को जमा कराने तक किसी भी प्रकार की लापरवाही न हो इस बात को गम्भीरता से लेगें। उन्होंने संचार संबंधी उपकरणां के संचालन कार्य को अच्छे सीखने को कहा। मतदान के दौरान बूथ में मोबाइल एवं आगन्तुकों के गनर शस्त्र को सीमा के भीतर लाने न दें।  इस अवसर पर नोडल ऑफिसर मतदान कार्मिक प्रबन्धन/मुख्य विकास अधिकारी दीप्ति सिंह, उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी डॉ. एस.के. बरनवाल, एआरओ पौड़ी योगेश कुमार, कोटद्वार मनीष कुमार, श्रीनगर दीपेन्द्र नेगी, चौबट्टाखाल सौरभ असवाल, एसडीएम लैंसडोन अपर्णा ढौंडियाल, यमकेश्वर एसएस राणा, पुलिस उपाधीक्षक अनिल जोशी, सहायक निर्वाचन अधिकारी विजय सिंह तिवारी सहित समस्त पुलिस अधिकारी, नोडल ऑफिसर, सैक्टर/जोनल मजिस्ट्रेट एवं मास्टर ट्रेनर उपस्थित थे।

To Top