*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

विश्व पर्यावरण दिवस’ पर राज्यपाल ने दिया पर्यावरण संरक्षण के लिये संदेश

04-06-2019 20:22:53

नैनीताल : विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने प्रदेशवासियों से पाॅलिथीन और प्लास्टिक जनित कचड़े का पूर्ण रूप से त्याग करने का आह्वाहन किया है। राज्यपाल ने वृक्षारोपण और जल संरक्षण को भी आवश्यक बताया है। विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून के अवसर पर राज्यपाल श्रीमती मौर्य राजभवन नैनीताल प्रांगण में प्रातः10ः15 बजे वृक्षारोपण करेंगी।  राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने, विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में कहा कि ‘विश्व पर्यावरण दिवस प्रत्येक व्यक्ति को पृथ्वी और पर्यावरण संरक्षण के प्रति सक्रिय भूमिका निभाने के लिए प्रेरित करता है। लोगों को यह सुनिश्चित करना होगा कि प्राकृतिक संसाधनो का प्रयोग किया जाय, लेकिन पर्यावरण को कोई क्षति न पहुँचे। राज्यपाल ने कहा कि प्रकृति से अपने लगाव को कम न होने दें और इसके संरक्षण में हर सम्भव योगदान दें। पर्यावरण संरक्षण के प्रति सब जागरूक हों।
 उन्होंने कहा कि जैव विविधता की दृष्टि से उत्तराखण्ड अत्यन्त समृद्व प्रदेश है। प्रकृति प्रदत्त संसाधनों के कारण सुरम्य वातावरण की वजह से उत्तराखण्ड राज्य पर्यटकों के लिए सर्वाधिक लोकप्रिय व आकर्षक गंतव्य स्थल है। राज्य के प्रत्येक नागरिक को यह सुनिश्चित करना है कि राज्य के समृद्ध वन क्षेत्र और हमारी अनमोल वन्यजीवन विरासत संरक्षित एवं सुरक्षित रहे। उत्तराखण्ड की नदियां व झीलों को स्वच्छ बनाने मंे सभी नागरिक भागीदार बनें। राज्यपाल ने प्रत्येक प्रदेशवासी का आह्वान किया है कि वे प्लास्टिक कचरे का पूर्ण रूप से त्याग करें।