*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400, ऑफिस 01332224100 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

एनआईटी श्रीनगर की नॉन टीचिंग स्टाफ के इंटरव्यू के लिए जयपुर सेंटर चुना जाना दुर्भाग्यपूर्ण - उविपा

11-08-2019 20:41:16 By: एडमिन

कोटद्वार : उत्तराखण्ड विकास पार्टी की बैठक लैंसडौन भवन देवी मंदिर कोटद्वार में हुई। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि अभी उत्तराखंड का युवा कोऑपरेटिव बैंक में आवंटित परीक्षा केंद्रों के झटकों से भी नही उभरा था की फिर से एक नया फरमान जारी हुआ है जिसमें एनआईटी श्रीनगर की नॉन टीचिंग स्टाफ के इंटरव्यू के लिए जयपुर सेंटर चुना गया है  ।


बैठक में उविपा वक्ताओ ने कहा कि  जिस प्रदेश से चुने गए सांसद पर्वतीय प्रदेश में पूर्वी पाकिस्तान के लिए आरक्षण की माँग करते है, उस प्रदेश के युवा का भविष्य ऐसे ही बर्बाद होता रहेगा । जो एनआईटी जयपुर से वापिस श्रीनगर शिफ्ट कर के सरकार के तमाम नेता क्रेडिट लेने से नही चूके,क्या वो इस फ़ैसले की जिम्मेदारी लेने भी आगे आएंगे, या अगल बगल झांकने लगेंगें । उत्तराखंड कोऑपरेटिव बैंक की परीक्षा उत्तराखंड से बाहर,एनआईटी श्रीनगर के नॉन टीचिंग स्टाफ का इंटरव्यू उत्तराखंड से बाहर कराना समझ से परे है। उत्तराखंड राज्य बनाया ही क्यों, जब उत्तराखंड में कुछ भी कर नही पा रहे हो । आप यह उम्मीद कर रहे हो कि पुरोला मोरी या पर्वतीय जिलों का कोई बेरोजगार जयपुर पहुँच जाएगा ? हाँ जिनसे आप उम्मीद कर रहे हो कि यह जयपुर पहुँच जाएंगे,उनके लिए इंटरव्यू करवा रहे तो आपका फैसला बिल्कुल सही है ।


एडवोकेट ध्यान सिंह नेगी ने कहा कि सरकार को फौरन अपने इस फैसले को वापस ले लेना चाहिए। बैठक में बिनोद कुकरेती,एडवोकेट पंकज भट्ट, एडवोकेट ध्यान सिंह नेगी, एडवोकेट ललित पटवाल , महेंद्र बिष्ट, महाराज बिष्ट, विजयपाल सिंह गुसाईं, सुरेन्द्र भारद्वाज, आशीष किमोठी, महेश देवरानी, हरीश कुमार आदि मौजूद थे।