*** सभी ग्रामवासियों को गाँधी जयंती और विजय दशमी दशहरा की हार्दिक शुभकामनायें - शेर अली , प्रधान प्रत्याशी पति ग्राम पंचायत रायापुर *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

भाजपा उत्तराखण्ड के निवासियों के मूल अधिकारों को कर रही है खत्म - उविपा

08-10-2019 18:31:12

कोटद्वार/गढ़वाल : उत्तराखंड विकास पार्टी की बैठक में लैंसडौन भवन देवी मंदिर कोटद्वार में हुई । बैठक में वक्ताओं ने एक डंपर वाले द्वारा आयुष कुकरेती पर मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार  की छवि खराब करने पर का जो मुकदमा दर्ज कराया, उसकी कड़ी निंदा की ।  वक्ताओं ने कहा कि सरकार के मुखिया की छवि  अगर कोई आमजन खराब करता है तो सरकार को सरकारी तौर पर उसकी कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए। मगर यह सरकार तो ऐसा लग रहा है कि डंपर वालों की सरकार है ,खनन करने वालों की सरकार है और वही इस सरकार के सलाहकार और सेनापति बने  हैं । यूट्यूब में तमाम ऐसे वीडियो  प्रधानमंत्री मोदी के और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के हैं जिन्हें काटकर यूट्यूब में डाला गया है । ऐसे वीडियो में ना तो  प्रधानमंत्री मोदी ने कोई एफआईआर दर्ज करवाई गई और ना ही राहुल गांधी ने कोई एफआईआर  दर्ज करवाई।  ऐसे में स्वयं सरकार के मुखिया के द्वारा बोले गए बोल पर एफ आई आर दर्ज करना हास्यास्पद ही है ,और प्रदेश की छवि के साथ खिलवाड़ करना है।

उविपा वक्ताओ ने कहा कि यह ध्यान में रखने योग्य बात है कि जिस व्यक्ति ने यह एफआईआर दर्ज कराई है वह यहां का मूल निवासी नहीं  लगता है। ऐसे में यहां के मूल निवासियों के हक़  हकूकों का प्रभावित होना स्वाभाविक ही है। यह गणतांत्रिक देश है। और गणों की स्वतन्त्रता और प्रभुसम्पनता  के आधार पर ही इस देश का गठन हुआ है। ऐसे में गढ़वाल और कुमाऊं के गणों के मूलभूत अधिकारों का यह सीधा सीधा  हनन है और भाजपा पहले से ही यहां के निवासियों के मूल अधिकारों को खत्म कर रही है और उसका जो दुष्प्रभाव है वह इस तरीके से सामने आ रहा है, कि सत्ता के मद में मदहोश बाहर के लोग यहां के मूल निवासियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा रहे हैं । वक्ताओं ने कहा कि गढ़वालियों की खामोशी को उनकी कमजोरी न समझा जाय । अगर सरकार अब भी नहीं सुधरी तो उसे इसके गम्भीर नतीजे भुगतने होंगे। बैठक में मुजीब नैथानी, रमेश कुकरेती, ध्यान सिंह नेगी, पंकज भट्ट, ललित पटवाल, काकू गुसाईं, महाराज बिष्ट , महेंद्र बिष्ट, विजयपाल सिंह गुसाईं, रवि गुसाईं, महेश देवरानी, सुरेन्द्र भारद्वाज, काकू गुसाईं आदि शामिल थे।