तम्बाकू का प्रयोग करने से होने वाले खतरे के प्रति जागरूक

Publish 31-05-2019 22:12:35


तम्बाकू का प्रयोग करने से होने वाले खतरे के प्रति जागरूक

कोटद्वार । राष्ट्रीय सेवा योजना से आच्छादित माध्यमिक विद्यालयों में विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर  आयोजित विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से युवा छात्र छात्राओं को धूम्रपान तथा अन्य तम्बाकू उत्पादों का प्रयोग करने से होने वाली बिमारियों के प्रति सचेत किया गया।बलूनी पब्लिक स्कूल मोटाढाक में गढवाल सभा द्वारा आयोजित किये जा रहे चार दिवसीय छात्रा उन्नयन ग्रीष्मकालीन विशेष शिविर में प्रतिभाग कर रही,छात्राओं को संबोधित करते हुए रासेयो गढवाल मण्डल कार्यक्रम समन्वयक पुष्कर सिंह नेगी ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा वर्ष 1987 से प्रत्येक वर्ष 31मई को तम्बाकू निषेध दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। ताकि लोगों को तम्बाकू का प्रयोग करने से होने वाले खतरे के प्रति जागरूक किया जा सके,उन्होने बताया कि पूरे विश्व में साठ लाख लोग प्रतिवर्ष धूम्रपान करने और तम्बाकू के अन्या उत्पादों के सेवन से होने वाली बीमारियों से मरते है। जिसमें से दस लाख लोग प्रतिवर्ष भारत में मरते हैं। राइका कालौ के कार्यक्रम  अधिकारी परितोष रावत ने बताया कि तम्बाकू का प्रयोग करने से दांत होठ मसूडे मुंह गला आंत और पेट की बीमारियों के साथ ही कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी जन्म लेती हैं। कार्यशाला में राबाइका कलालघाटी काइका कण्वघाटी इका मोटाढाक आर्यकन्या इटर कालेज राइका चौबट्टाखाल एसजीआर आर दिउला पौखाल तथा इका यमकेश्वर की छात्राओ ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर गढवाल सभा के अध्यक्ष योगम्बर सिंह रावत,गोविन्द डंडरियाल,अभिलाषा भारद्वाज डा.मंजू कपरवाण  राजेश कुमार ध्यानी शशि भूषण अमोली तथा इका मोटाढाक के  प्रधानाचार्य जनार्द्वन बुडकोटी आदि मौजूद रहे।

To Top