मतगणना प्रक्रिया को त्रुटिरहित एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन कराने को लेकर बैठक

Publish 30-04-2019 10:24:43


मतगणना प्रक्रिया को त्रुटिरहित एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन कराने को लेकर बैठक

पौड़ी : उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी डॉ0 एस.के. बरनवाल ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 मतगणना प्रक्रिया को त्रुटिरहित एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन कराने की तैयारी को लेकर संबंधित नोडल अधिकारी/कार्मिक की बैठक ली। उन्होने संबंधित अधिकारियों को अपने-अपने दायित्व को सक्रीयता से पूर्ण करने के निर्देश दिये। कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियत कार्यक्रमानुसार दिनांक 23 मई 2019 को मतगणना हेतु सर्विस मतदाताओं के लिए प्रथम बार लागू ईटीपीबीएस के माध्यम से प्रेषित डाक मत पत्रों की गणना की जानी है। जिसको लेकर दक्ष कार्मिकों की तैनाती के लिए 30 अप्रैल 2019 से प्रशिक्षण प्रक्रिया शुभारंभ की किया जायेगा। कहा कि इटीपीबीएस तथा पीबी व इवीएम की वोट की गणना हेतु करीब 1000 कार्मिकी तैनाती रहेगी।


     डा0 बरनवाल ने कहा कि मतगणना हेतु इन कार्मिकों की प्रशिक्षण तीन चरणों में दी जायेगी। जिनमें मास्टर ट्रेनर, माईक्रोआब्जर्वर, मतगणना कार्मिक व रिजर्व सहित करीब 1000 कार्मिकों की तैनाती रहेगी। कहा कि इटीपीबीएस मत पत्र की गणना हेतु कार्मिकों की 30 अप्रैल व 1 मई 2019 को जिला पंचायत सभागार में प्रथम चरण की प्रशिक्षण दिया जायेगा तथा द्वितीय चरण की प्रशिक्षण 8 व 9 मई को होगी। जबकि अन्तिम तृतीय चरण की प्रशिक्षण 22 मई को दिया जायेगा।  वही इवीएम मशीन की मतगणना हेतु तैनात कार्मिकों की 10 मई 2019 व 22 मई 2019 को प्रशिक्षण दिया जायेगा। जिसकों लेकर उन्होने संबंधित नोडल अधिकारी एवं नोडल अधिकारी एनआईसी को भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश के अनुरूप रेण्डोमाईजेशन की कार्यवाही के निर्देश दिये। जबकि कम्यूटर उपकरण, नेटवर्क, कार्मिक, टेन्ट व्यवस्था आदि के नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी से अद्यतन कार्य प्रगति की जानकारी लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। कहा कि निर्धारित समय से पूर्व समुचित व्यवस्थाएं पूर्ण करेंगे। कहा कि मतगणना में तकनीक जानकारी से दक्ष कार्मिकों की प्रशिक्षित कर मतगणना प्रक्रिया को सक्रियता एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन किया जायेगा।  इस अवसर पर नोडल अधिकारी इटीपीबीएस प्रदीप बिष्ट, पीबी अशोक कुमार, डीएस राणा, कम्यूटर उपकरण डा. सुभाष चन्द्र, ईडीएम प्रकाश चौहान, डीआईओ एनआईसी रीना कण्डारी, सहायक नोडल अधिकारी प्रशिक्षण पंकज जैन, टेन्ट व्यवस्था आदि जी.एस. कौण्डल सहित संबंधित कार्मिक तैनात थे।

To Top