कोटद्वार के लोग पीने के पानी के संकट से जूझ रहे

Publish 01-06-2019 17:29:18


कोटद्वार के लोग पीने के पानी के संकट से जूझ रहे

कोटद्वार । जल संस्थान के दावों के बाद भी जलसंकट नहीं हुआ दूर पाइप लाइन में लीकेज की वजह से उठानी पड़ रही परेशानीकोटद्वार। जल संस्थान के लाख दावों के बावजूद कोटद्वारवासियों को पेयजल संकट से निजात मिलती नजर नहीं आ रही है। कहीं नलकूप में खराबी तो कहीं पाइपलाइन लीकेज के कारण लोगों को पानी के लिए यहां.वहां भटकना पड़ रहा है।वार्ड नम्बर तीन सनेह के ग्राम लालपानी में पिछले कई दिनों से पेयजल की भारी किल्लत बनी हुई है। जिस टयूबवेल का उपयोग वार्ड नंबर 2 कुम्भीचौड़ के नाथूपुर वार्ड नंबर तीन के लालपानी में जलापूर्ति व सिंचाई की व्यवस्था के लिए किया जाता हैए उसकी मोटर पिछले तीन दिन से फुंकी हुई हैए लेकिन अभी तक न तो जल संस्थान ने सुध ली और न ही सिंचाई विभाग ने। लोगों ने जल संस्थान से वैकल्पिक व्यवस्था करने की मांग की है। इस ट्यबूवेल के जरिये क्षेत्र के हजारों परिवारों को जलापूर्ति के साथ ही सिंचाई की व्यवस्था की जाती है। ट्यूबवल फूंकने से पूरे क्षेत्र में जलापूर्ति पूरी ठप हो चुकी हैए वहीं खेत भी सूखे पड़े हुए हैं। स्थानीय निवासी पंकज मनोहर महेन्द्र आदि ने बताया कि पिछले दो दिन से पेयजल की आपूर्ति न होने से भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत के बाद भी जल संस्थान के अधिकारियों ने टैंकर की व्यवस्था नहीं की। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सर्दियों के मौसम में विभाग द्वारा सुबह और सांय को पानी की आपूर्ति की जा रही थीए लेकिन भीषण गर्मी शुरू होते ही विभाग द्वारा एक ही समय पानी की आपूर्ति की जा रही है। जबकि गर्मियों में पानी की अधिक आवश्यकता है। उन्होंने विभाग से जल्द ही टयूबवेल की मरम्मत कर समस्या का निस्तारण करने की मांग की है। जल संस्थान के अधिशासी अभियन्ता एलसी रमोला का कहना है कि लालपानी स्थित टयूबवेल की मोटर फुंक गई है और यह ट्यूबवेल सिंचाई विभाग के अधीन है। कहा कि फिलहाल टैंकर के माध्यम से पेयजल की व्यवस्था बनाई जा रही है।

To Top