भालू के आतंक से ग्रामीण दहशत में

Publish 11-07-2019 21:05:08


भालू के आतंक से ग्रामीण दहशत में

कोटद्वार । जयहरीखाल ब्लॉक के अन्तर्गत ग्राम चाई में पिछले कुछ दिनों से भालू का आतंक बना हुआ है। जिससे ग्रामीणों में दहशत बनी हुई है। भालू के आंतक से महिलाएं घास काटने व गाय चुगाने के लिए खेतों में भी नहीं जा पा रही है। ग्रामीणों ने वन विभाग से भालू के आंतक से निजात दिलाने की मांग की है।डा0पदमेश बुड़ाकोटी ने बताया कि चाई गांव समुद्र तल से करीब नौ सौ मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। वर्ष 1970 - 80 के दशक में यहां के ग्रामीणों ने गांव के ऊपर और नीचे सघन वृक्षारोपण किया था। जिसके फलस्वरूप अब एक विस्तृत क्षेत्र में जंगल पनप गया है और कुछ क्षेत्र में मिश्रित वन भी उग आया है। स्थानीय ग्रामीण इस जंगल की रक्षा करते है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में भालू की दस्तक से ग्रामीण दहशत में है। आमतौर पर ऊंचे पहाड़ों पर बांज के जंगलों के बीच पाया जाने वाला काला भालू इन दिनों दोपहर में ही गांव के आसपास घूम रहा है। गांव के पूर्व प्रधान अशोक बुड़ाकोटी दीपक बुड़ाकोटी संतोष बुड़ाकोटी महेश चन्द्र आदि ने वन विभाग से भालू के आंतक से निजात दिलाने की मांग की है।

To Top