सरकारी कार्मिको द्वारा सोशल मीडिया या सार्वजनिक तौर पर राजनैतिक दल या प्रत्याशी का किया प्रचार या आलोचना तो होगी कार्यवाही - दीपक रावत

Publish 03-04-2019 16:05:30


सरकारी कार्मिको द्वारा सोशल मीडिया या सार्वजनिक तौर पर राजनैतिक दल या प्रत्याशी का किया प्रचार या आलोचना तो होगी कार्यवाही - दीपक रावत


मथुरा/आगरा (परविंदर)| यूपी पुलिस के उपर जहाँ आरोप प्रत्यारोप लगते रहते है वहीं यूपी पुलिस के एक दरोगा ने मानवता की मिशाल कायम की है आपको बताते चले कि एक दरोगा ने मानवता का परिचय दिया। मथुरा छावनी रेलवे स्टेशन पर प्रसव पीड़ा से परेशान महिला की न केवल मदद की, बल्कि वहां पर स्ट्रेचर न मिलने पर उसे गोदी उठाकर महिला अस्पताल तक पहुंचाया।
मथुरा छावनी रेलवे स्टेशन पर एक महिला हाथरस निवासी भावना प्रसव पीड़ा से परेशान थी। भावना का मायका लच्छी नगरिया हाथरस में है। वह पति महेश के साथ दयालपुर बल्लभगढ़ में रहती है। हाथरस सिटी जीआरपी के एसओ सोनू राजौरा वहां पहुंच गए। सोनू यहां एक तारीख पर मथुरा न्यायालय आए हुए थे। महिला को प्रसव पीड़ा से परेशान देख तो उन्होंने एंबुलेंस बुलाने को फोन पर सूचना दी। एंबुलेंस आने में देरी होते देखकर उन्होंने तत्काल छावनी जीआरपी के कर्मियों की मदद से ई-रिक्शा द्वारा उसे जिला अस्पताल पहुंचाया। जिला अस्पातल में चिकित्सकों ने उसकी हालत देखकर कहा कि इसे महिला अस्पताल ले जाओ। लेकिन वहां पर स्ट्रेचर उपलब्ध नहीं था। इधर वहां पर महिला पीड़ा से परेशान थी। स्ट्रेचर न मिलने पर एसओ सोनू राजौरा ने बगैर देरी महिला को अपनी गोद में उठाया व उसे महिला अस्पताल में पहुंचाया। महिला अस्पताल में महिला ने एक पुत्र को जन्म दिया। इस समय जच्चा-बच्चा स्वस्थ हैं। पुलिस के इस रूप को जिसने देखा उसने सराहा।