पांरपरिक वेशभूषा में की मतदान करने की अपील

Publish 05-04-2019 20:25:03


पांरपरिक वेशभूषा में की मतदान करने की अपील

गोपेश्वर/चमोली (जगदीश पोखरियाल)।  भोटिया जनजाति की महिलाओं ने पांरपरिक वस्त्रों में जागरूकता रैली निकाल कर आम लोगों से मतदान करने की अपील की। वहीं दूर दराज के इलाकों में भी शिक्षकों, छात्रों व ग्रामीणों ने मतदाता जागरूकता रैली व गोष्ठी का आयोजन किया। चमोली जिला मुख्यालय के निकटवर्ती गांव घिंघराण में शुक्रवार को भोटिया जनजाति की महिलाओं ने पांरपरिक वेशभूषा में रैली निकाली तथा लोगों से मतदान करने की अपील की। बता दें कि घिघंराण मतदान केंद्र माइग्रेटेड ग्रामीणों का बूथ है जो छह माह नीचले स्थानों पर तथा छह माह उपरी स्थानों पर निवास करते है। वर्तमान समय में यहां के ग्रामीण अपने नीचले क्षेत्र घिंघराण के गांव में प्रवास पर है। इन्हें इस बार अपने गांव के निकट के मतदान केंद्र पर ही मतदान करना है। इस मौके पर यहां पर एक गोष्ठी का आयोजन भी किया गया। जिसमें मतदान के बारे में जानकारी दी गई। इस मौके पर स्वीप के नोडल अधिकारी सीडीओ हंसा दत्त पांडे, स्वीप के समन्वयक डा. एमएस सजवाण, डॉ. योगेश धस्माना, जीतेंद्र सिह नेगी आदि मौजूद थे। वहीं दूसरी ओर दशोली के नोडल अधिकारी व खंड शिक्षा अधिकारी दर्शन लाल टम्टा के नेतृत्व में पलेठी, मेड व ठेली गांव में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। बीईओ दशोली डीएल टम्टा ने सभी ग्रामवासियों से आगामी लोक सभा सामान्य निर्वाचन में अपने मताधिकार का प्रयोग करने की अपील की। इस मौके पर ब्लाॅक समन्वयक, दशोली सतीश चन्द्र जोशी भी मौजूद थे। इधर बीआरसी देवाल ने राजकीय इंटर काॅलेज वाण देवाल, बीआरसी नरेन्द्र रावत, बीआरसी घाट ने काण्डई में व आजीविका चमोली ने ग्राम उतरौं, पोखरी के डिडोली तोक में स्वयं सहायता समूहों के साथ मतदाता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ,

 

To Top