*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

जिलाधिकारी ने लामबगड़ गांव में दैवीय आपदा से क्षतिग्रस्त परिसंपत्तियों की स्थिति का लिया जायजा, अधिकारियों को तत्काल सभी व्यवस्थाएं बहाल करने के निर्देश

03-06-2019 17:01:04

चमोली (संतोष नेगी):    गैरसैंण ब्लाक के खंसर घाटी के सीमांत गांव लामबगड में बीते रविवार को बादल फटने से एक बुजुर्ग व्यक्ति की मृत्यु हुई है, वही कुछ सार्वजनिक एवं निजि संपत्तियों को नुकसान पहुॅचा है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने सोमवार को प्रभावित क्षेत्र लामबगड पहुॅचकर कर दैवीय आपदा से क्षतिग्रस्त परिसंपत्तियों का जायजा लेते हुए मौके पर ही अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने दैवीय आपदा में मृतक व्यक्ति के घर पहुॅचकर दुःख की इस घडी में प्रभावित परिवार को सांत्वना देते हुए शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने मौके पर ही मृतक बादर सिंह की पत्नी को अनुग्रह सहायता के रूप में 4 लाख का चैक प्रदान किया। कहा कि दुःख की इस घडी में जिला प्रशासन उनके साथ खडा है और प्रभावित परिवार की हर सम्भव मदद की जाएगी।
लामबगड़ गांव में दैवीय आपदा से क्षतिग्रस्त परिसंपत्तियों की स्थिति का जायजा लेते हुए जिलाधिकारी ने अधिकारियों को तत्काल सभी व्यवस्थाएं वहाल करने के निर्देश दिए। जल संस्थान को गांव की क्षतिग्रस्त पेयजल लाईन तथा सिंचाई विभाग को क्षतिग्रस्त गूल का आंगणन तैयार कर शीघ्र मरम्मत कार्य शुरू कराने के निर्देश दिए। कहा कि जब तक पेयजल लाईन की मरम्मत नही होती तब तक गांव में पेयजल की अस्थाई व्यवस्था की जाए। ग्राम विकास अधिकारी को खेतों से मलवा हटाने के लिए मनरेगा से प्रस्ताव तैयार करने तथा तत्काल खेतों से मलवा हटाने की कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। खेतों की सुरक्षा के लिए गदेरे के किनारे सिंचाई विभाग को सुरक्षा दीवार बनाने हेतु प्रस्ताव तैयार करने को कहा। वही लामबगड में मोटर मार्ग पर क्षतिग्रस्त पुलिया के निर्माण हेतु लोनिवि गैरसैंण को आंगणन तैयार करने के निर्देश दिए, ताकि इसके निर्माण के लिए चालू जिला योजना में शामिल किया जा सके।

दैवीय आपदा से लामबगड में अवरूद्ध हुए मोटर मार्ग को लोनिवि गैरसैंण ने दो विभागीय  जेसीबी लगाकर सोमवार सुबह 10 बजे यातायात के लिए सुचारू किया गया है। वही जल संस्थान द्वारा लामबंगड में टैंकर के माध्यम से पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। दैवीय आपदा से मलवा आने के कारण लामबगड में लगभग 60 परिवारों की कृषि भूमि प्रभावित हुई है। प्रशासन और पुलिस की टीम रविवार को ही घटना स्थल पर पहुॅच गई थी तथा रविवार को ही मृतक बादर सिंह का शव ढूढ लिया गया था।  इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र सिंह नेगी, उप जिलाधिकारी किशन सिंह नेगी, तहसीलदार सोहन सिंह रांगड, क्षेत्र के राजस्व उप निरीक्षक सहित लोनिवि, जल संस्थान, जल निगम, लघु सिंचाई, ग्राम्य विकास आदि विभागों के अधिकारी, फिल्ड कर्मचारी व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे।