*** सभी ग्रामवासियों को गाँधी जयंती और विजय दशमी दशहरा की हार्दिक शुभकामनायें - शेर अली , प्रधान प्रत्याशी पति ग्राम पंचायत रायापुर *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

जिलाधिकारी के आदेश की भी नहीं कोई परवाह जिला पंचायत चमोली को

19-09-2019 18:14:45

गोपेश्वर (चमोली)। जिला पंचायत चमोली के अधिकारियों को जिलाधिकारी के आदेश का भी कोई असर होता नहीं दिख रहा है। जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया ने जिला पंचायत के अधिकारियों को निर्देश दिया था कि जिला पंचायत की आवंटित दुकानों का बकाया 20 लाख रुपया जल्द वसूला जाय जो आज तक नहीं हो पाया है। विभाग ने खाना पूर्ति के लिए बकायेदारों को सिर्फ नोटिस देकर इतिश्री कर ली है।


बीते 21 अगस्त को जिलाधिकारी/प्रशासक जिला पंचायत स्वाति एस भदौरिया ने जिला पंचायत का औचक निरीक्षण किया था। इस दौरान डीएम ने दुकानों के बकाएदारों की लंबी फेहरिस्त को देखते हुए 10 सितंबर तक किराए की वसूली करने और वसूली न होने पर दुकानों का आवंटन रद्द करने के निर्देश जिला पंचायत को दिए थे। लेकिन इस ओर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। गोपेश्वर नगर के साथ ही जिले के विभिन्न बाजार क्षेत्रों में कई सालों से जिला पंचायत की दुकानों का किराया वसूली नहीं हो पाई है। कई लोगों पर जिला पंचायत का लाखों का किराया बकाया है। गुड्डू हसन पर 428400  रुपये का बकाया है। दूरसंचार विभाग पर 210912 रुपये, आदर्श पब्लिक स्कूल कर्णप्रयाग पर 316470 रुपये की देनदारी है।


यही नहीं जिला पंचायत ने नियमों को ताक पर रख कर कई लोगों के नाम पर गोपेश्वर नगर में ही एक से अधिक दुकानें आवंटित की गई हैं। और जिनके नाम दुकाने आवंटित है उन्होंने उंचे दामों पर किसी ओर को किराये पर दे रखी है। जिला पंचायत के अपर मुख्य कार्याधिकारी अशोक शर्मा का कहना है कि बकाएदारों को नोटिस दिए गए हैं। किराए की वसूली न होने पर न्यायालय से दुकानों के आवंटन को रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी।