जंगल में लगी आग, गांव तक पहुंची, दो गौशाला जली

Publish 06-05-2019 18:06:28


जंगल में लगी आग, गांव तक पहुंची, दो गौशाला जली

गोपेश्वर (जगदीश पोखरियाल)। चमोली जिले के नंदप्रयाग क्षेत्र के पुरसाडी गांव के पास भौंरा गांव के नीचले हिस्से में चीड़ के जंगल में रविवार की सांय को आग लग गई जिसे वन विभाग व स्थानीय लोगों ने बुझा दिया था लेकिन अचानक सोमवार की दोपहर को आग फिर अचानक भडक उठी जिससे आग गांव के पास तक जा पहुंची जिससे दो गौशालाऐं आग की भेंट चढ़ गई है। हांलाकि इस वक्त गौशाला में कोई जानवर नहीं था जिससे जानवरों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। मगर गौशाला जल कर नष्ट हो गई है। वहीं गौशाला के पास रखे ग्रामीणों के ओढने बिछाने वाले कपडों के साथ ही कुर्सी मेज भी आग की भेंट चढ़ गये है। नगर पंचायत नंदप्रयाग की अध्यक्ष हिमानी वैष्णव ने बताया कि आग के गांव में पहुंचने की सूचना मिलते ही वे अपने अधिशासी अधिकारी रघुवीर राय के साथ गांव में पहुंची। जहां उन्होंने स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पा लिया है लेकिन गौशाला जल कर भस्म हो गई है। बताया कि गांव के देवेंद्र सिंह पुत्र गब्बर सिंह व गोविंद सिंह पुत्र हिम्मत सिंह की गौशालाऐं जल कर नष्ट हुई है। उन्होंने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया है  िकवे उनकी हर संभव मदद करेंगी।
क्या कहते है अधिकारी
आग बुझाने के लिए टीम क्षेत्र में भेजी गई है। आग पर काबू पा लिया गया है। यदि गौशालाओं में आग लगी है तो जांच कर पीड़ितों को नियमानुसार मुआवजा दिया जाएगा।
जुगल चैहान, वन क्षेत्राधिकारी बदरीनाथ वन प्रभाग चमोली।

To Top