*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

गोपेश्वर नगर के आसपास हुई भारी वर्षा, दो मकान क्षतिग्रस्त, तीन लोग घायल

12-06-2019 20:40:54

दैवीय आपदा को लेकर माॅक अभ्यास
गोपेश्वर/चमोली (जगदीश पोखरियाल)।
बुधवार को गोपेश्वर के आसपास के क्षेत्र में भारी वर्षा हुई। जिससे दो भवन क्षतिग्रस्त हो गये साथ ही चमोली गोपेश्वर मोटर मार्ग भी अवरूद्ध हो गया। वहीं भवन क्षतिग्रस्त होने से तीन लोग घायल हो गये। घबराये नहीं यह बस आगामी मानसून काल में दैवीय आपदाओं की तैयारियों एवं इंसीडैेट रेस्पोंस सिस्टम (आईआरएस) के स्वतः सक्रिय होने तथा सिस्टम में पूर्व निर्धारित दायित्वों के निर्वहन का जायजा लिये जाने को लेकर जिला प्रशासन ने बुधवार को जिला मुख्यालय गोपेश्वर में माॅक ड्रिल कर इस तरह की घटना को दर्शा कर आपदा से निपटने की तैयारी की गई।


माॅक अभ्यास में गोपेश्वर नगर के नजदीक के क्षेत्रों में भारी वर्षा होने के कारण आॅपरेशन सैक्शन, प्लानिंग सैक्शन एवं लाॅजिस्टिक सैक्शन चीफ के अधिकारियों के साथ जनपद की स्थिति की समीक्षा की गई और एसडीएम/स्टेजिंग एरिया मैनेजर को वारलैस के माध्यम से स्टेजिंग एरिया में पहुुंचने के निर्देश दिये गये। माॅक अभ्यास में दो आवासीय भवनों के क्षतिग्रस्त होने, पोखरी बैंड पर मार्ग अवरूद्ध होने के साथ ही कुछ लोगों के घायल होने की सूचना दी गई। जिस पर आईटीबीपी, एसडीआरएफ, एसएसबी, पुलिस, फायर ब्रिगेड, रेडक्रास, पीआरडी, वन, स्वास्थ्य एवं जिला स्तरीय अधिकरियों की दो अलग-अलग टास्कफोर्स टीमों का गठन किया गया और टास्कफोर्स की टीमों को अलग-अलग घटना स्थलों पर रेस्क्यू आॅपरेशन के लिए रवाना किया गया। जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया ने ने रेस्क्यू टीमों के साथ डीब्रीफिंग की तथा उनके अनुभवों को जाना। कहा कि वैसे भी चमोली जनपद आपदाओं की दृष्टि से अत्यंत संवेदनशील तथा भूकंप की दृष्टि से जोन पांच में है। अब जबकि मानसून अवधि में भारी वर्षा एवं अतिवृष्टि के चलते जनधन को होने वाले नुकसान से बचने के लिये ही यह माॅक ड्रिल मददगार साबित होगा। डिप्टी रिसंपोन्सिबल आॅफिसर/एसपी यशवंत सिंह चैहान ने टीमों को रेस्क्यू पर जाने से पहले आवश्यक सुरक्षा उपकरणों को अपने साथ रखने, सूचनाओं का सही ढंग से आदान-प्रदान करने को कहा। इस मौके पर एडीएम एमएस बर्निया, सीडीओ हंसादत्ता पाण्डे, सीटीओ वीरेंद्र कुमार, डीएफओ अमित कंवर, सीएमओ डाॅ. एके डिमरी, डीडीओ एसके राॅय, एसडीएम बुशरा अंसारी मौजूद थे।