सभी मोटर मार्ग एवं पैदल रास्तों को ठीक करें - जिलाधिकारी

Publish 05-04-2019 20:35:34


सभी मोटर मार्ग एवं पैदल रास्तों को ठीक करें  - जिलाधिकारी

एनएच घोटालें में सफेद पोशों को बचा रही प्रदेश सरकार
अल्मोड़ा 20 सितम्बर,
केन्द्र की सरकार को नरेन्द्र मोदी नहीं ब्लकि प्रत्याक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से आरएसएस चला रही है। यह बात वरिष्ठ कांग्रेस नेता व राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने शिखर होटल में पत्रकारों से वार्ता के दौरान कही।
श्री टम्टा ने कहा कि बिगत दिनों आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत द्वारा दिया बयान कि देश की आजादी में कांग्रेस का महत्वपूर्ण योगदान रहा है उन्होंने कहा कि देश की आजादी में महात्मा गांधी, पं जवाहर लाल नेहरू, सरदार बल्लभ भाई पटेल सहित कांग्रेस के दिग्गज नेताओं, स्वतंत्रता संेनानियों का योगदान रहा है यह देश की जनता भली भांति जानती है। इसलिए आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को जो दिव्य ज्ञान बांट रहे हैं इसकी जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा भागवत को देश की जनता को यह बताना चाहिए कि देश की आजादी में आरएसएस की क्या योगदान रहा हैं।
राज्य सभा सांसद टम्टा ने आरोप लगाया कि देश की आजादी में आरएसएस ने अंग्रेजों के साथ मिलकर आन्दोलन को तोड़ने व कमजोर करने का काम किया, और आज भी देश की जनता व कांग्रेस के सामने लोकतंत्र को बचाने की चुनौती दी जा रही है। उन्होंने कहा देश को घृणा, नफरत से बचाने के लिए देश की जनता व कांग्रेस को आरएसएस के सर्प्टि फिकेट की जरूरत नही है। उन्होंने कहा कि आज देश की अर्थ व्यवस्था चरमरा गयी है। और देश के वित्त मंत्री वह रहे है कि डालर मजबूत हो रहा है। तथा रूपया कमजोर हो रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि नौ हजार करोड़ से अधिक की बैंक की धोखाधड़ी करने वाले विजय माल्या को भी केन्द्र सरकार व केन्द्रीय वित्तमंत्री बचाने का प्रसास कर रहे है। उन्होंने इस मामले में केन्द्रीय वित्तमंत्री से इस्तीफे की मांग की साथ ही विजय माल्या को देश से भगाने में पीएमओ कार्यालय केन्द्रीय वित्तमंत्री, सीबीआई बैंकिंग इन्सट्यशन की भूमिका को संदिग्ध बताते हुए एसबीआई के चीफ की उच्च स्तरीय जांच जेपीसी से कराये जाने की मांग की । उन्होंने आरोप लगाया कि आरएसएस व भाजपा जमात पूरे देश को लूटने में लगी है। उन्होंने पेट्रोलियम पटार्थो की बढ़ती कीमतों के लिए केन्द्र सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए पेट्रोलियम पदार्थों को पीएसटी के दायरे में लगाने की मांग की।
प्रदेश की त्रिवेन्द्र सरकार पर जीवों टेलेरैन्स की बात पर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए श्री टम्टा ने कहा कि एनएच घोटाले में कई कर्मचारियों, आधिकारियों व दो आईएएस अधिकारियों को निलम्बित करने के बाद राज्य सरकार निलम्बित आईएस अफसरों की न तो एसआईटी चार्ज दाखिल कर रही है। उन्होंने एनएच घोटाले में प्रदेश सरकार पर कई सफेदपोशों को बचाने का भी आरोप लगाया। पदोन्नति में आराक्षण पर श्री टम्टा ने कहा कि यय संविधान प्रदत्त व्यवस्था है और शैक्षिक, सामिजिक रूप से पिछले वगों को इसका लाभ मिलना चाहिए।
पत्रकार वार्ता में श्री टम्टा के साथ पूर्व विधायक मनोज तिवारी कांग्रेस जिलाध्यक्ष पीताम्बर पाण्डे, नगर अध्यक्ष पूरन रौतेला, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मोहन सिंह महरा, पूर्व पालिकाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी, पूर्व दर्जा मंत्री राजेन्द्र बाराकोटी, बिद्दू कर्नाटक, गीता ठाकुर, प्रदेश सचिव त्रिलोचन जोशी, पीसीसी सदस्य मोहन सिंह सिग्वाल, होटल एशोसिएशन के अध्यक्ष राजेश बिष्ट आदि मौजूद थे ।

To Top