ब्रेकिंग न्यूज़ !
    *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

    एबीवीपी ने किया मतदान को लेकर सम्मेलन का आयोजन

    07-04-2019 15:43:56

    गोपेश्वर (जगदीश पोखरियाल)। रविवार को चमोली जिला मुख्यालय गोपेश्वर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने मतदाता जागरूकता अभियान व सौ फीसदी मतदान को लेकर सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ एबीवीपी के प्रदेश संगठन मंत्री प्रदीप शेखावत, प्रदेश छात्रसंघ चुनाव प्रभारी संकेत नौटियाल, गढ़वाल छात्रा प्रमुख उर्मिला बिष्ट, जिला संयोजक अमित मिश्रा सामुहिक रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। सम्मेलन में बोलते हुए संकेत नौटियाल ने एबीवीपी के बारे में बोलते हुए कहा कि संगठन नीव 1948 में डाली गई थे जो आज तक देश हित मे अपना योगदान देती आ रही है जेपी मूवमेंट से लेकर लाल चैक पर तिरंगा लहराने तक, 18 साल मतदान की आयु करने का जो आंदोलन चलाया आज उसका प्रतिफल है कि युवाओं को मतदान का मौका मिला है। कहा कि देश के लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए सबका आवश्यक रूप से मतदान करना चाहिए। मुख्य वक्ता प्रदेश संगठन मंत्री प्रदीप शेखावत ने कहा कि एक-एक मत का महत्व का होता है। कहा कि हमारा मत हमारी पहचान है, लोकतंत्र की मजबूती है और हम युवा कल के नहीं आज के नागरिक है। हमें अपने देश का भविष्य चुनना है। इसके लिए हमे इसे सक्रियता से, सकारात्मक रूप से चुनाव के लिए मतदान करना है। कहा कि विद्यार्थी परिषद के हर कार्यकर्ता का दायित्व है कि वे पूरी ऊर्जा व उत्साह से कार्य करें। इस मौके पर जिला प्रमुख विनोद चंद्र, प्रदेश सह संयोजक राष्ट्रीय कला मंच, विभाग सह संयोजक राहुल फस्र्वाण, विपिन कंडारी, पवनेश रावत, नेहा नेगी आदि मौजूद थे।