द अल्टीमेट हिमालयन माउंटेन बाइकिंग चैलेंज प्रतियोगिता का चौथे संस्करण का आयोजन

Publish 15-04-2019 23:00:38


द अल्टीमेट हिमालयन माउंटेन बाइकिंग चैलेंज प्रतियोगिता का चौथे संस्करण का आयोजन

चमोली (संतोष नेगी):   रोमांचक पर्यटन को बढावा देने के मकसद से उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद और आईडीआईपीटी के संयुक्त तत्वाधान में राज्य के आठ पहाड़ी जिल्लों में द अल्टीमेट हिमालयन माउंटेन बाइकिंग चैलेंज प्रतियोगिता का चौथे संस्करण का आयोजन किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता 18 अप्रैल से 26 अप्रैल तक चलेगी। मस्कट बर्फी के जरिए प्रतियोगिता का प्रचार प्रसार किया जा रहा है। हिमालयन माउंटेन बाइकिंग प्रतियोगिता का क्वालीफाइंग राउंड 18 अप्रैल को नैनीताल में होगा। क्वालीफाई करने वाले प्रतिभागी 19 अप्रैल को नैनीताल से अल्मोडा, 20 को अल्मोड से कौसानी, 21 अप्रैल को कौसानी से ग्वादम-कर्णप्रयाग होते हुए रूद्रप्रयाग, 22 अप्रैल को रूद्रप्रयाग से नई टिहरी, 24 अप्रैल को नई टिहरी से चिन्यालीसौड़, 25 अप्रैल को चिन्यालीसौड़ से मूसरी तक लगभग 612 किलोमीटर का सफर तय होगा। इस प्रतियोगिता में श्रीलंका, सिंगापुर, थाइलैंड, मलेशिया, जर्मनी, इंडोनेशिया, ईरान, नेपाल के अंतराष्ट्रीय प्रतिभागियों के साथ राष्ट्रीय प्रतिभागियों ने पंजीकरण किया है। अभी तक 157 पंजीकरण हो चुके है। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के इच्छुक प्रतिभागी निःशुल्क पंजीकरण करा सकते है। प्री क्वालिफाइंग रेस के आधार पर ही प्रतिभागी का चयन किया जाएगा।

माउंटेन बाइकिंग प्रतियोगिता की व्यवस्थाओं को लेकर सोमवार को अपर सचिव पर्यटन सी रविशंकर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग  के माध्यम से सभी जिलों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कहा कि साहसिक पर्यटन गतिविधियों से राज्य को एक नई पहचान मिलेगी और राज्य की आर्थिकी में भी सुधार होगा। कहा कि राज्य में एडवेंचर टूरिज्म की असीम संभावनाएं है। पर्यटन विभाग की योजना साहसिक पर्यटन की इन संभावनाओं को वैश्विक स्तर पर विकसित करने के साथ ही एक नई पहचान दिलाने की है। पर्यटन सचिव ने सभी जिलों के पर्यटन अधिकारियों को संबधित विभागों से समन्वय बनाकर मांउटेन बाइकिंग प्रतियोगिता के लिए निर्धारित रूट चार्ट के अनुसार संवदेनशील स्थलों को चिन्हित कर सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम करने, डाइवर्जन प्वांइट पर साइनेज लगाने, रूट में प्रतिभागियों के लिए न्यूट्रीशन प्वांइट पर ग्लूकोज, जूस, पानी आदि की व्यवस्थाऐं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। प्रतिभागियों को ठहरने के लिए निर्धारित स्थानों पर होमस्टे, होटल तथा निर्धारित मीनू के अनुसार भोजन की व्यवस्था करने एवं अधिक से अधिक प्रतिभागियों को होमस्टे में ठहरने का प्रबंध करने को कहा। राष्ट्रीय व अंतराष्टीय प्रतिभागियों को उत्तराखंड की संस्कृतिक की झलक देखने को मिले, इसके लिए पारम्परिक सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कराने के निर्देश दिए। प्रतियोगिता के दौरान निर्धारित रूट पर ट्रैफिक व्यवस्था के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल, होमागार्ड व पीआरडी जवानों की तैनाती रखने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से निर्धारित रूट पर चिकित्सा सुविधा एवं एंबुलेंस सेवा की वहाली सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

मुख्य विकास अधिकारी हसांदत्त पांडे ने वीसी में अपर सचिव को अवगत कराया कि जिले में ग्वादम से रूद्रप्रयाग बार्डर कमेडा तक 91 किलोमीटर से होकर माउंटेन बाईक रैली निकलेगी। इस रूट पर पांच संवेदनशील तथा 24 डाइवर्जन स्थलों को चिन्हित किए गए है जिन वा वांलिएटर तैनात रहेंगे। इसके साथ ही चार न्यूट्रीशन प्वांइट भी बनाए जाएगे। प्रतियोगिता के दौरान मेडिकल तथा एंबुलेस सुविधा की व्यवस्था की गई है।  इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हसांदत्त पांडे, अपर जिलाधिकारी एमएस बर्निया, सीओ पुलिस पुरूषोत्तम दत्त जोशी, जिला पर्यटन अधिकारी बृजेन्द्र पांडेय, डीओ पीआरडी अविनाश दीपक सहित स्वास्थ्य, परिवहन आदि विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

To Top