546 मतदेय स्थलों पर लगभग 57 प्रतिशत मतदान हुआ

Publish 11-04-2019 20:41:11


546 मतदेय स्थलों पर लगभग 57 प्रतिशत मतदान हुआ

चमोली (संतोष नेगी):   लोकसभा चुनाव के तहत 02-गढ़वाल संसदीय क्षेत्र के लिए जिले के सभी मतदेय स्थलों पर शांतिपूर्ण मतदान संपन्न हुआ। वरनेवल एवं क्रिटिकल बूथों में भी मतदान शांतिपूर्ण रहा। सभी इलाकों में महिलाओं से लेकर बुजुर्ग मतदाताओं ने गजब का उत्साह दिखाया तो युवा मतदाताओं ने भी लोकतंत्र के इस महापर्व में बढ चढकर भाग लिया। पपडियाणा, अल्कापुरी, जीआईसी गोपेश्वर, गोपेश्वर गांव, घिंघराण, मासौं सहित कई मतदेय स्थलों पर लम्बी कतारे देखी गई। मतदेय स्थल वाण एवं द्वींग सहित कुछ बूथों पर 5ः00 बजे के बाद भी मतदान होता रहा। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में 546 मतदेय स्थलों पर लगभग 57 प्रतिशत मतदान हुआ।

जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि किसी भी मतदेय स्थल से कोई गड़बड़ी की खबर नही मिली है। मतदेय स्थल बेलाधार में ईवीएम व सीयू खराब होने की खबर हुई थी, लेकिन उसे तुरंत ही बदल दिया गया था। इसके अलावा आठ मतदेय स्थलों पर वीवीपैट खराब होने पर बदली गई। बद्रीनाथ विधानसभा के पोखनी एवं थराली विधानसभा के कफोली, बमियाला व गड़ीक के मतदाताओं ने मतदान में भाग नही लिया। यहाॅ पर केवल मतदान कार्मिको ने ईडीसी से अपना वोट दिया। मतदान के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी सभी मतदेय स्थलों पर हुए माॅक पोल, मतदान शुरू होने तथा दो-दो घण्टे में संकलित सूचना का अवलोकन भी करते रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने मतदान के दौरान राप्रावि रौलीग्वाड, जीआईसी घिंधराण व कुडाव पोलिंग बूथ का स्थलीय निरीक्षण करते हुए मतदान व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया।

मतदान में महिलाओं की भागीदारी बढाने के लिए पहली बार जिले के मतदेय स्थल संख्या 80-कुण्ड को सखी बूथ बनाया गया था। इस बूथ की कमान सभाल रही महिला कार्मिकों ने बडे अच्छे से मतदान संपन्न कराया। सखी बूथ पर जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया, पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चैहान, अपर जिला निर्वाचन अधिकारी हसांदत्त पाडे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एमएस बर्निया ने भी मतदान किया।  मतदाताओं को सुविधा देने एवं मतदान केन्द्रों के आधुनिकीकरण के लिए जिले में 18 मतदेय स्थलों को आदर्श मतदेय स्थल बनाया गया था। इनमें मतदाता को बैठने हेतु फर्नीचर, टेबल क्लॉथ , पेयजल की व्यवस्था, स्वच्छता के लिए परिसर में डस्टबिन, रैम्प रैलिंग की सुविधा, मतदान केन्द्र में शामियाना एवं गुब्बारे, माला, पंतग आदि से सजावट के साथ ही मतदाताओं के छोटे बच्चों को खेलने की सुविधा के इंतेजाम थे। आदर्श मतदेय स्थलों में राइका गोपेश्वर के चारों बूथ, राप्रावि कुण्ड के दो, राइका कर्णप्रयाग के दो, राइका गैरसैंण के दो, राप्रावि सुनील जोशीमठ, राइका घाट, राआइका थराली के दो, राप्रावि देवाल, राप्रावि पनाई गौचर के दो तथा राआप्रावि पोखरी के दो बूथ शामिल थे।

चमोली जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में 149952 पुरूष, 143559 महिला एवं अन्य 01 मतदाता सहित कुल 293512 मतदाता पंजीकृत थे। जिसमें बद्रीनाथ विधानसभा क्षेत्र के 99485, थराली के 101352 तथा कर्णप्रयाग के 92675 मतदाता थे। माइग्रेट मतदेय स्थल माणा, नीती, गमशाली, कैलाशपुर, जेलम, कोषा, जुम्मा, द्रोणागिरी तथा मलारी के 3781 माइग्रेट मतदाताओं के लिए उनके वर्तमान निवास स्थान पर ही मतदान की सुविधा दी गई। शीतकालीन क्षेत्रों के ये प्रवासी आजकल जिले के निचले क्षेत्रों में प्रवास करते है। जिले में 57 प्रतिशत मतदान हुआ। पिछले लोकसभा चुनाव में जिले में 55.48 प्रतिशत मतदान हुआ था।

To Top