बाल श्रम व भिक्षावृत्ति को रोकने के लिए उठाने होंगे प्रभावी कदमः मयूर दीक्षित

Publish 06-12-2018 18:30:27


 बाल श्रम व भिक्षावृत्ति को रोकने के लिए उठाने होंगे प्रभावी कदमः मयूर दीक्षित

अल्मोड़ा 6 दिसम्बर, जिले में बाल श्रम व भिक्षावृत्ति को रोकने के लिये प्रभावी कदम उठाने होंगे जिससे बच्चों को मजदूरी व अन्य क्रिया कलाप करने से रोका जा सकंे। इसके लिये सभी एनजीओ व सरकारी विभागों को विशेष ध्यान देना होगा। यह बात मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने बाल कल्याण समिति की बैठक के दौरान कही।
          सीडीओ मयूर दीक्षित ने कहा कि बाल श्रम की रोकथाम के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में चाइल्ड हेल्प लाइन नम्बर 1098 का प्रचार-प्रसार किया जाय। ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहे अपराधों पर वहां के केस उजागर नहीं हो पाते। इस नंबर के माध्यम से कोई भी व्यक्ति बाल श्रम के विरूद्ध या बाल अपराधों की शिकायत कर सकता है। कहा कि विद्यालयों में भी समय-समय पर बच्चों को गुड टच, बैड टच की फिल्म दिखायी जाय जिससे की वे जागरूक हो सके और संदेह की स्थिति में अपने अभिभावको को बता सके। उन्होंने कहा कि बाल श्रम का सर्वे तत्काल करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा आंगनबाडी केन्द्रो में भी चाईल्ड हेल्प लाइन नम्बर प्रदर्शित किया जाय। बैठक में उपस्थित विभिन्न संस्थाओ के पदाधिकारियों ने अपने-अपने सुझाव रखे और कहा कि बच्चों के साथ होने वाले अपराधों की रोकथाम हेतु बाल मित्र बनाये जाय। जिला प्रोबेशन अधिकारी राजीव नयन तिवारी ने समिति के समक्ष किये गये कार्यो के बारे में बताया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ विनीता शाह, जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय गौरव, डॉ हेमलता भट््ट, प्रशान्त जोशी, जिला शिक्षाधिकारी माध्यमिक एचबी चंद सहित अन्य उपस्थित थे।

To Top