ब्रेकिंग न्यूज़ !
    *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

    घर में कछुआ रखने से धन लाभ ही नहीं और भी हैं बहुत फायदे, जाने क्या -क्या हैं फायदे

    12-08-2019 14:28:37

    लखनऊ /उत्तर प्रदेश( रघुनाथ प्रसाद शास्त्री): फेंगशुई और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, अपने घर या कार्यस्थल पर कछुआ रखना कई तरह से लाभकारी होता है। कछुआ रखने से परिवार के सदस्यों पर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। फेंगशुई विज्ञान के अनुसार, कछुआ रखने से घर के लोगों की आयु लंबी होती है, घर में सुख-शांति भी बनी रहती है। साथ ही यह बिजनस के लिए भी शुभ होता है। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे घर पर कछुआ रखना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है । कछुआ लंबे समय तक जीवित रहने वाला एक शांत जीव होता है। कछुए की फोटो या फिर अष्टधातु से बने कछुए को भी घर के मंदिर में रखा जा सकता है। कछुए को पानी से भरे पीतल या अष्टधातु के पात्र में ही रखना चाहिए।
    पौराणिक ग्रंथों में भी कछुए का उल्लेख मिलता है।  ज्योतिष के जानकार रघुनाथ प्रसाद शास्त्री ने बताया हिंदू धर्म के अनुसार, कछुआ इसलिए भी शुभ और सुख-समृद्धि वाला माना जाता है क्योंकि भगवान विष्णु ने स्वयं कच्छप अवतार लिया था जिसे उनके कूर्म अवतार के नाम से जाना जाता है। भगवान विष्णु ने कछुए का रूप धारण कर क्षीरसागर के समुद्र मंथन के समय मंद्रांचल पर्वत को अपने कवच पर थामा था। इसलिए अपने व्यापार और घर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए कछुआ रखना मंगलकारी होता है।
    वास्तु और फेंगशुई के अनुसार, ऐसा कछुआ जिसकी पीठ पर कछुए के बच्चे भी हों, उसे संतान प्राप्ति के लिए खास माना जाता है। जिस घर में संतान न हो या जो दंपत्ति संतान के सुख से वंचित हों, उन्हें इस प्रकार का कछुआ अपने घर में रखना चाहिए। माना जाता है जल्द ही उस घर में बच्चे की किलकारियां सुनाई दे सकती हैं।पौराणिक ग्रंथों में भी कछुए का उल्लेख मिलता है।
    आजकल करियर,नौकरी और व्यवसाय में तरक्की पाने के लिए प्रयासरत लोगों के लिए कछुआ शुभ फलदायी है। जो विद्यार्थी परीक्षा और प्रतियोगिता की तैयारी करते हैं, उनके लिए पीतल का बना कछुआ सफलता पाने में मददगार हो सकता है, कछुए से मिलने वाली सकारात्मक ऊर्जा बहुत ही कारगर होती है।पौराणिक ग्रंथों में भी कछुए का उल्लेख मिलता है।
    फेंगशुई विज्ञान कहता है कि कछुए को घर पर रखने से किसी की बुरी नजर नहीं लगती, कछुआ नजर दोष खत्म करता है। साथ ही अगर किसी व्यक्ति का स्वास्थ्य लंबे समय से सही नहीं हो तो कछुए को दक्षिण पूर्व दिशा में रखना चाहिए, इससे लाभ होता है। घर में कछुआ रखने से घर का वातावरण शुद्ध और पवित्र बना रहता है और गंदी बीमारियां घर में नहीं आती है।
    यदि किसी के परिवार में घर के सदस्यों के बीच लड़ाई-झगड़े होते रहते हैं तो घर में 2 कछुओं का जोड़ा रखना चाहिए। ऐसा करने से घर के सदस्यों के बीच चल रही अनबन खत्म हो जाएगी और प्यार बढ़ेगा। कछुआ घर पर रखने से शांति बनी रहती है। आपसी प्यार बढ़ता है। कछुआ रखने से क्लेश और बुरी शक्तियां दूर होती हैं।
    कछुए को रखने से घर के सदस्यों की उम्र भी बढ़ती है क्योंकि कछुआ भी लंबी उम्र का जीव जंतु है। कछुआ लंबे समय तक जीता है और सौभाग्य में भी वृद्धि होती है, इसलिए घर या ऑफिस में इसका होना लाभदायक माना जाता है।
    फेंगशुई के अनुसार, कछुए को कभी भी अपने बेडरूम में नहीं रखना चाहिए क्योंकि ऐसा करना फेंगशुई के हिसाब से नुकसानदायक हो सकता है। इसका उल्टा प्रभाव पड़ सकता है। कछुए की स्थापना हेतु सर्वोत्तम स्थान घर का ड्राॅइंंग रूम है। घर पर रखे जाने वाले कछुए का मुंह घर के अंदर होना चाहिए।
    वास्तु के अनुसार उत्तर दिशा शुभ होती है। इसलिए कछुए का चित्र आपको उत्तर दिशा की तरफ ही लगाना चाहिए क्योंकि उत्तर दिशा को लक्ष्मी जी की दिशा माना गया है। ऐसा करने से धन लाभ और शत्रुओं का नाश होता है। घर और दुकान के मुख्यद्वार पर कछुए का चित्र लगाने से व्यापार में धन लाभ और सफलता मिलती है। कछुआ धन प्राप्ति का सूचक होता है, यदि किसी को धन संबंधी परेशानी हो, तो उसे क्रिस्टल वाला कछुआ लाना चाहिए।
    कछुआ लंबे समय तक जीवित रहने वाला एक शांत जीव होता है। कछुए की फोटो या फिर अष्टधातु से बने कछुए को भी घर के मंदिर में रखा जा सकता है। कछुए को पानी से भरे पीतल या अष्टधातु के पात्र में ही रखना चाहिए।