*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

राशिफल व पञ्चांग 27 जनवरी 2019

26-01-2019 19:42:58

लैन्सडौन/पौड़ी |  छावनी परिषद  द्वारा ठेके पर दिये होटल में  होटल मालिक  द्वारा छावनी परिषद की सार्वजनिक भूमि पर सडक घेर कर पानी की दो टंकिया रख देने से लोगो को आवाजाही करने में भारी परेशानियों का सामना करना पड रहा है  |  परेशान व्यापारी  डा. महेन्द्र जोशी  द्वारा उक्त मामले में छावनी परिषद के अध्यक्ष , मुख्य अधिशासी अधिकारी और बोर्ड सदस्यों को पत्र भेजकर होटल स्वामी पर कारवाई की मांग की गयी है डा. महेन्द्र जोशी ने बताया कि न्यू  कैन्ट मार्किट में प्रथम तल पर लैन्स व्यूव होटल है उसके मालिक ने होटल की छत होते हुये पानी की दो  टंकिया बीच रास्ते में लगवा दी  है  जिससे मार्ग अवरूद्र हो गया है  |  जिस कारण  दुकानों में आने वाले ग्राहको को परेशानी हो रही है और व्यापारियों को व्यापारिक गतिविधियों में दिक्कतो का सामना करना पड रहा है जिससे  उनके व्यापार पर असर पड रहा है  |  जहा एक और छावनी परिषद थोडी सी जगह घिरने में कर वसूल करती है वही दूसरी और दो पानी की टंकिया छावनी परिषद की जगह पर कैसे रखी गयी यह सोचनीय विषय है  |  छावनी क्षेत्र में छावनी भूमि होने से प्रत्येक कार्य के लिये छावनी परिषद की स्वीकृति ली जाती है लेकिन किस आधार पर होटल स्वामी  द्वारा सार्वजनिक मार्ग पर टंकिया लगाकर अतिक्रमण कर दिया है  |  और छावनी परिषद के कर्मचारी मूक दर्शक बनकर देख रहे है और होटल स्वामी  पर कारवाई करने से बच रह है छावनी क्षेत्र में किस व्यक्ति  द्वारा कितना अतिक्रमण किया जा रहा है ये देखना छावनी परिषद का कार्य है छावनी परिषद को भेजे पत्र में उपरोक्त  मामले का पूर्ण संगियान लेते हुये कारवाई की मांग की गयी है जिससे व्यापारियों व स्थानीय जनता को परेशानिया न उठानी पडे  |