राशिफल व पञ्चाङ्ग 24 नवम्बर 2018

Publish 23-11-2018 20:28:56


राशिफल व पञ्चाङ्ग 24 नवम्बर  2018

चुनावों को लेकर कार्यकत्र्ताओं की ली बैठक
कोटद्वार।
कांग्रेस कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष और चुनाव पर्यवेक्षक सूर्यकांत धस्माना ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से आपसी मतभेद भुला अभी से चुनाव तैयारियों में जुट जाने का आह्वान किया। यहां बद्रीनाथ मार्ग स्थित एक होटल में आगामी निकाय चुनावों को लेकर उन्होंने कार्यकर्ताओं की बैठक ली। उन्होंने कहा कि खत्म कर देने वाली नियत वाली भाजपा सरकार सत्तासीन है। लेकिन गोरखपुर और फूलपुर के उप चुनावों से जनता के मूड का अंदाजा लगाया जा सकता है। उत्तराखंड में तो भाजपा का विकल्प मात्र कांग्रेस ही है और ऐसे में सभी को आपसी मतभेद भुलाकर एकजुटता और मजबूती के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद यह पहले चुनाव होने जा रहे हैं ऐसे में कांग्रेस निकाय चुनावों के जरिए अपनी वापसी कर सकती है और यह पार्टी और कार्यकर्ताओं के लिए एक सुनहरा अवसर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस परिवार एक बड़ा कुनबा है और ऐसे में आपसी मतभेद होना लाजमी है, लेकिन आपस में मनभेद नहीं होना चाहिए और यह कांग्रेस के लिए आपातकाल की तरह ही है, ऐसे में सभी को एकजुट होकर काम करना होगा, शास्त्रों में भी यही कहा गया है कि विपरीत परिस्थितियों में एकजुट होकर ही सफलता हासिल की जा सकती है। उन्होंने कहा कि नगर निगम का विरोध कोटद्वार ही नहीं अपितु देहरादून में भी हो रहा है और लोगों ने तैयारियां कर आपत्तियां भी डाली है, नगर निगम को लेकर ऐसा नहीं लगता कि सरकार पीछे हटने वाली है और दूसरी ओर चुनाव की तैयारियां हो रही है। सरकार की नियत साफ नहीं है और इसी के चलते चुनाव कार्यक्रम पर अभी तक सरकार की मुहर नहीं लगी है, जिससे चुनाव को लेकर सरकार और चुनाव आयोग में टकराव की स्थिति बनी हुई है। उन्होंने नगर निगम और नगर निकाय दोनों ही परिस्थितियों में चुनाव तैयारियों में जुट जाने का आह्वान भी किया। जिलाध्यक्ष चंद्रमोहन खरक्वाल, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष रंजना रावत, सीता गुप्ता, प्रदेश सचिव कृष्णा बहुगुणा, मीना बछवाण, पूर्व राज्य मंत्री विजय नारायण सिंह, जगमोहन सिंह नेगी, जसबीर राणा, पूर्व ब्लाक प्रमुख गीता नेगी, विजयपाल मेहरा, नगर अध्यक्ष संजय मित्तल, गुड्डू चैहान सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।


गर्मजोशी से हुआ धस्माना का स्वागत
कोटद्वार। 
कांग्रेस कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष और चुनाव पर्यवेक्षक सूर्यकांत धस्माना का कोटद्वार पहुंचने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यहां कौडिया बैरियर में भव्य स्वागत किया। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने श्री धस्माना का फूल मालाएं पहनाकर स्वागत किया। इस मौके पर महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव कृष्णा बहुगुणा ने अपने समर्थकों के साथ उनका स्वागत किया।
 

क्या कांग्रेस की वैतरणी पार ला पाएंगे धस्माना
कोटद्वार।
कांग्रेस कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष और कोटद्वार निकाय चुनाव पर्यवेक्षक सूर्यकांत धस्माना आज दिनभर कोटद्वार में ही रहेंगे और चुनाव को लेकर कार्यकर्ताओं से विचार मंथन करेंगे। धस्माना ने अपने संबोधन के दौरान कार्यकर्ताओं से स्पष्ट कहा कि वे अपनी बात को बैठक में रख सकते हैं। इसके अलावा चुनाव को लेकर बंद कमरे में अपनी बात भी रख सकते हैं। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि निकाय चुनाव कांग्रेस के लिए कितने अहम हैं। लेकिन निकाय चुनाव में क्या समीकरण बनते हैं और निकाय चुनाव में पार्टी का कौन दावेदार होगा, यह तो भाजपा की तैयारी के बाद ही तय हो पाएगा। यहां यह भी सवाल उठता है कि विगत निकाय चुनाव में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही एक-दूसरे को पटखनी देने की होड़ में थे और चुनाव के दौरान महिला आरक्षित सीट होने के बावजूद दोनों ही पार्टियां निकाय चुनाव में अपनी जमीनी स्थिति का अंदाजा लगाने में नाकाम रहे और अपने-अपने प्रत्याशियों को भूलकर तीसरी पार्टी के दावेदार के लिए वोट मांगते नजर आने लगे। नतीजतन स्थिति यह रही कि निकाय चुनाव में बसपा प्रत्याशी रश्मि राणा को जीत मिल गई। दूसरे नंबर पर भाजपा प्रत्याशी रही और तीसरे नंबर पर कांग्रेस प्रत्याशी रही थी। वर्तमान में भी कांग्रेस जहां निकाय चुनावों से अपनी वापसी करना चाहती है, वहीं भाजपा भी निकाय चुनावों में अपना पूरा दमखम लगा देना चाहती है और कांग्रेस को किसी भी सूरत में हावी होना नहीं देना चाहेगी। ऐसे में निकाय चुनाव में कांग्रेस की राह मुश्किल अवश्य ही रहेगी, लेकिन नामुंकिन नहीं। देखना यह होगा कि कांग्रेस आपसी गुटबाजी और मतभेद भुला एकजुट हो पाएगी। साथ ही क्या धस्माना इस काम को बखूबी कर पाएगें, यह तो भविष्य के गर्भ में छिपा है, लेकिन धस्माना ने निकाय चुनाव में कांग्रेस की वैतरणी पार लगाने की मुहिम शुरू अवश्य कर दी है।

To Top