जाने वसंत पंचमी के बारे में ...............

Publish 09-02-2019 23:29:59


जाने वसंत पंचमी के बारे में ...............


लैन्सडौन/पौड़ी । पर्यटन नगरी में अखिल भारतीय विघा मन्दिर से सम्बद्र सरस्वती शिशु मन्दिर स्कूल स्थापित है लेकिन संसाधनों के अभाव में सीमित साधन होने से विघालय प्रबन्धन समिति के सामने पठन पाठन कार्य को लेकर कई परेशानियों का सामना करना पड रहा है। जहा राजकीय प्राथमिक विघालयों से छात्र छात्राओ की संख्या घटती जा रही और राज्यस्तरीय विघालय संख्या बल की कमी के कारण बन्द होने के कगार पर पहुच चुके है वही सीमित साधन होने के बावजूद नगर के सरस्वती शिशु मन्दिर की छात्र संख्या 60 से 65 बच्चो के बीच है।विघालय के प्रधानाचार्य मेहरबान सिंह रावत ने बताया कि सरस्वती शिशु मन्दिर के पास  सीमित साधन होने के बावजूद भी स्कूल निरंतर  प्रगति पर है जो कि विघालय प्रबन्धन समिति और विघालय की शिक्षिकाओ की मेहनत का परिणाम है।नगर में स्कूल गत कई वर्षो लगभग चालीस वर्षो से संचालित किया जा रहा है।लेकिन विघालय के पास अपनी कोई भूमि व भवन न होने की स्थिति में विघालय को समय समय पर नगर के कई स्थानों पर स्थानान्तरित कर संचालित किया जा रहा है।जिससे विघालय प्रबन्धन समिति के पास कक्षा संचालन के लिये कक्षो व भवन की समस्या बनी रहती है जिससे पठन पाठन कार्य को लेकर काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है छावनी क्षेत्र होने से स्कूल के लिये जमीन व भवन की मांग को लेकर केन्द्रीय मन्त्रियों से लेकर मुख्यमंत्री व  स्थानीय जनप्रतिनिधियों को निंरतर अवगत कराया जा रहा है।जिससे विघालय के लिये जमीन व भवन की व्यवस्था हो सके।विघालय के व्यवस्थापक रामअवतार खडेंलवाल ने बताया कि विघालय के प्रधानाचार्य मेहरबान सिंह,शिक्षिकायें राजकुमारी,मनिका रावत आदि बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध करवाने के प्रति लगातार प्रयासरत है जिससे विघालय प्रगति की और है।

To Top