*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

श्री केदारनाथ धाम में महाशिव पुराण कथा के दूसरे दिन दक्ष प्रजापति की हिमालय में तपस्या एवं वैराग्य पीठ श्री केदारनाथ का वर्णन

06-08-2019 21:06:00

केदारनाथ/ रुद्रप्रयाग । श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बी.डी.सिंह ने बताया कि  श्री केदारनाथ दैवीय आपदा में दिवंगत तीर्थयात्रियों की स्मृति एवं दिवंगतों की आत्म शांति हेतु श्रद्धांजलि स्वरुप मुंबई के दानी दाता मनोज सोलंकी एवं उनके परिवार के सहयोग से मंदिर समिति शिव महापुराण कथा मंगलवार को  दूसरे दिन में प्रवेश हुई। उन्होंने बताया कि दानीदाता मनोज सोलंकी द्वारा  केदारनाथ आपदा में पूर्ण क्षतिग्रस्थ हुए  भगवान श्री ईश्वानेश्वर मंदिर निर्माण का संकल्प भी  लिया है। श्री शिव महापुराण के दूसरे दिन कथा ब्यास आचार्य जगदंबा प्रसाद सती ने शिव तीर्थों,ज्योर्तिलिंगों  की महिमा का वर्णन किया।  नारद मोह की कथा, कामदेव की उत्पति, महाराजा दक्ष प्रजापति द्वारा हिमालय पर्वत पर भगवान शिव की तपस्या के फलस्वरूप मां सती की पुत्री रूप में प्राप्ति एवं वैराग्यपीठ श्री केदारनाथ की महिमा के प्रसंग सुनाये।  श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल एवं उपाध्यक्ष अशोक खत्री सहित सभी सदस्यों ने श्री केदारनाथ धाम में शिव महापुराण कथा आयोजन को अभूतपूर्व बताया है। कार्याधिकारी एन.पी.जमलोकी ने जारी बयान में बताया कि शिव महापुराण कथा  हेतु मंदिर समिति  कर्मचारियों के साथ स्थानीय तीर्थ पुरोहित एवं श्री केदार सभा का सहयोग  है,कथा का समापन 15 अगस्त बृहस्पतिवार को  होगा।


इस अवसर पर कथा के मुख्य यजमान मनोज सोलंकी एवं उनके पारिवारिक सदस्यों सहित  श्री बदरीनाथ-केदारनाथ  मंदिर समिति  मुख्य कार्याधिकारी बी.डी.सिंह,  श्री केदार सभा अध्यक्ष विनोद शुक्ला, मंदिर अभियंता गिरीश देवली, लेखाकार आर.सी.तिवारी,  पुजारी केदार लिंग, प्रभारी धर्माधिकारी ओंकार शुक्ला, वेदपाठी विश्वमोहन जमलोकी प्रबंधक अरविंद शुक्ला, प्रबंधक प्रदीप सेमवाल, , वैद्य लोकेंद्र रिवाड़ी, डा.हरीश गौड़, मनोज शुक्ला,  तीर्थ पुरोहित आचार्य  -अरूण शुक्ला, रामेश्वर जमलोकी,संजय तिवारी,महेन्द्र पोस्ती,श्रीकृष्ण बगवाड़ी,शंभू प्रसाद बगवाड़ी,आनंद सेमवाल,किशन चंद्र बगवाड़ी,आलोक बाजपेयी,दीपनारायण शुक्ला,संजय पोस्ती,  पंथेर हर्ष वर्धन जमलोकी,बच्ची राम उनियाल  एवं मंदिर समिति से विपिन कुमार,  आनंद सूरज, शुक्ला,पुष्कर रावत,  अनसुया त्रिवेदी,मृत्युंजय, जीतपाल चौधरी, ललित त्रिवेदी, सुदीप कुमार, भोला सिंह कुंवर,संदीप बजवाल,देवी मैदुली आदि शामिल रहे।  बड़ी संख्या में तीर्थयात्री एवं स्थानीय लोगों ने कथा का श्रवण किया। कथा के साथ ही ऋषिकेश से पधारे भजन गायक दीपक चमोली ने शिव महिमा के भजनों से शमा बांधा,उनके साथ विकास मैठाणी,विजेन्द्र चमोली ने सहयोग किया।   कथा समाप्ति पश्चात आरती एवं प्रसाद वितरण हुआ। शिव महापुराण हेतु  अतिरिक्त ब्यवस्थाओं में  वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी राजकुमार नोटियाल, मंदिर सुपर वाइजर यदुवीर पुष्पवाण,हेली कार्डिनेटर भरत कुर्वांचली, प्रबंधक -कैलाश बगवाड़ी, भगवती सेमवाल,माहेश्वर शैव,   प्रमोद केशिव  आदि सहयोग कर रहे हैं।