हुआ बदलाव, अब इस वर्ष एक जून को खुलेंगे अब हेमकुंड के कपाट

Publish 24-03-2019 16:09:24


हुआ बदलाव, अब इस वर्ष एक जून को खुलेंगे अब हेमकुंड के कपाट

गोपेश्वर/चमोली (जगदीश पोखरियाल)।  सिखों के पवित्र तीर्थ स्थल हेमकुंड साहेब के कपाट हर बार 25 मई को खुलते हैं, लेकिन इस वर्ष हेमकुण्ड  जाने वाले मार्ग में विशालकाय हिमखंडों के पसरे होने के कारण गुरुद्वारा ट्रस्ट ने हेमकुंड साहिब के कपाट खोलने की तिथियों में परिवर्तन कर दिया गया है। इस वर्ष एक जून की तिथि निर्धारित कर ली गयी है। जानकारी हेमकुंड साहिब ट्रस्ट के प्रबंधक सेवा सिंह ने दी।
बता दें कि इस वर्ष शीतकाल में हुई भारी बर्फवारी के चलते जहां हेमकुंड साहिब में 20 फिट से अधिक बर्फ जमी है। वंही पैदल मार्ग पर घांघरिया से हेमकुंड तक छह किमी पैदल मार्ग पर पांच फिट बर्फ जमीं है। वहीं दो स्थानों पर 10 फीट बड़े ग्लेशियर भी पसरे हुए है। ऐसे में 25 मई को कपाट खोलना संभव न होने के कारण गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी कपाट खुलने की तिथि में बदलाव किया गया है। इससे पूर्व पांच वर्ष पहले तक हेमकुंड के कपाट एक जून को ही खोले जाते थे, लेकिन कम बर्फवारी को देखते हुए वर्ष 2014 के बाद से ट्रस्ट की ओर से तिथि बदल कर 25 मई कर दी गयी थी।

हेमकुंड साहिब धाम सहित यात्रा के पैदल मार्ग पर बर्फ जमी होने से तिथि को छह दिन आगे बढ़ा दिया गया है। आगामी 25 अप्रैल से यात्रा मार्ग से बर्फ हटाने का काम शुरू कर दिया जाएगा।
सेवा सिंह, प्रबंधक, हेमकुंड साहिब ट्रस्ट।

To Top