*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

कवयत्री उषा राजे सक्सेना की कविता "साँप और फरिश्ता"

27-10-2018 13:25:49

साँप और फरिश्ता
                  कवयत्री उषा राजे सक्सेना लन्दन

जब उसने सच को अपने जीवन में
सच सच अपना लिया तो
सारा का सारा सच, उसे सर्प सा डस गया
और वह सर्प बन गया यहाँ तक कि लोग उसे
आस्तीन का साँप समझने लगे

और जब उसने झूठ को अपने जीवन में
सच सच अपना लिया तो सारा का सारा झूठ उसे
बुलंदियों तक ले गया यहाँ तक कि वह इच्छाधारी सितारा बन गया
और लोग उससे मन्नतें माँगने लगें और वह इंसान से फरिश्ता बन गया