एसपी अजय की पाठशाला में बच्चो ने सीखे गुर

Publish 18-02-2019 22:02:02


एसपी अजय की पाठशाला में बच्चो ने सीखे गुर


कोटद्वार। महर्षि कण्व की तपस्थली और देश को नाम देने वाले हस्तिनापुर के चक्रवर्ती सम्राट भरत की जन्मस्थली कण्वाश्रम पर दूरदर्शन एक डाक्युमेंट्री (वृत्तचित्र) बनाऐगा। शनिवार को दूरदर्शन की टीम ने कण्वाश्रम में डेरा डाल लिया है। टीम के सदस्यों ने कण्वाश्रम के कई दृश्य फिल्माए और जानकारी जुटाई। इसी कड़ी में रविवार को दूरदर्शन के कार्यक्रम अधिकारी अरूण राज्यगुरू के नेतृत्व में पहुॅंची टीम ने कण्वाश्रम व सतीमठ में दृश्य फिल्माए। उन्होंने ‘डू समथिंग सोसायटी‘ के अध्यक्ष मयंक प्रकाश कोठारी ‘भारतीय‘, योगेश पांथरी, चक्रधर शर्मा ‘कमलेश‘, डॉ नन्दकिशोर ढौंडियाल व डॉ बेवनी से कण्वाश्रम के अतीत व वर्तमान में कण्वाश्रम संबंधित जानकारियां जुटाईं। मयंक प्रकाश कोठारी ‘भारतीय‘ ने दूरदर्शन की टीम से दिनांक 7 जनवरी 1990 से 12 जनवरी 1990 तक मानव संसाधन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा समायोजित अखिल भारतीय वैदिक सम्मेलन एवं संस्कृत भाषण प्रतियोगिता के सम्बन्ध में तथ्य सहित जानकारियां साझा कीं, जिन्हें कि दूरदर्शन की टीम ने विशेष कवरेज दी। उन्होंने बताया कि सन 1990 में पूज्य महाराज देवी प्रसाद कोठारी एवं प्रकाश चन्द्र कोठारी के विशेष प्रयासों से पौराणिक ऐतिहासिक स्थल कण्वाश्रम को इस राष्ट्रीय आयोजन के माध्यम से राष्ट्रीय पटल पर स्थापित करने हेतु समस्त भारत वर्ष से विद्वत् समाज एकत्रित हुआ था। इस आयोजन के साक्षी भारत सरकार के सहायक शिक्षा परामर्शदाता रामकृष्ण शर्मा, सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ रामकरण शर्मा, महामण्डलेश्वर निवृतमान शंकराचार्य सत्यमित्रानन्द जी गिरि, ऋषिकेशवानन्द  महाराज, मथुरा प्रसाद देवरानी, शशिधर भट्ट, भुवनेश खर्कवाल,कुॅवर सिंह नेगी ‘कर्मठ‘, डॉ वेद प्रकाश महेश्वरी ‘शैवाल‘, डॉ लक्ष्मी चन्द्र ‘शास्त्री‘, चक्रधर शर्मा ‘कमलेश‘, डॉ पीताम्बर दत्त देवरानी, शरद चन्द्र धूलिया, कमल जोशी, सुधांशु नैथानी, अनूप मिश्रा, देवानन्द बलोधी, विजय माहेश्वरी, विनोद जैन सहित पूरे भारतवर्ष से आये एक हजार से ज्यादा बुद्धिजीवी तथा क्षेत्रीय जनमानस बने। इस अवसर पर श्री नाट्यम हरिद्वार द्वारा कण्वाश्रम नामक नाटक का मंचन किया गया था, जिससे कण्वाश्रम को उपस्थित श्रेष्ठ बुद्धिजीवियों के माध्यम से सम्पूर्ण भारतवर्ष में ख्याति दिलायी जा सके। दूरदर्शन की टीम अपने तीन दिवसीय भ्रमण में कण्वाश्रम के साथ ही लैन्सडाउन एवं ताड़केश्वर पर भी डाक्युमेंट्री बना रही है। टीम में दूरदर्शन के कैमरामैन लंकाज शर्मा और टेक्नीशियन राकेश जुयाल शामिल हैं।

 

To Top