आंवले की खेती से प्रतापगढ़ ने देश-दुनिया में बनायी अपनी पहचान

Publish 28-02-2019 11:37:32


आंवले की खेती से प्रतापगढ़ ने देश-दुनिया में बनायी अपनी पहचान

लखनऊ/ उत्तर प्रदेश( रघुनाथ प्रसाद शास्त्री): प्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने आज प्रतापगढ़ जनपद में 213 करोड़ की लागत से नये राजकीय एलोपैथिक मेडिकल कालेज की आधारशिला रखी और इसे सम्मिलित करते हुये उन्होनें आज कुल 2 अरब 71 करोड़ 70 लाख की कुल 72 परियोजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण करते हुये जनपद को एक बड़ी सौगात दी। इस अवसर पर राजकीय इण्टर कालेज के मैदान में विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों और विशाल जनसमूह को सम्बोधित करते हुये कहा कि वह इस अवसर पर प्रतापगढ़ जनपद के पूर्वज किसानों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुये कहा कि जनपद में आंवले की खेती के माध्यम से इन महापुरूषों ने जनपद को जो पहचान दी है इसके नाते प्रतापगढ़ जनपद न केवल देश में अपितु पूरी दुनिया में आंवले की खेती उसकी खटास और मिठास के रूप में अपनी पहचान रखता है। उन्होने आंवला किसानों से कहा कि सरकार ने ‘‘एक जनपद-एक उत्पाद’’ योजना के अन्तर्गत प्रतापगढ़ को आंवले की खेती के रूप में चयनित किया है और आंवले के उत्पादों की उच्च गुणवत्ता और उनके लिये मार्केटिंग की बेहतर सुविधा उपलब्ध करायेगी। उन्होने प्रदेश के अपने सहयोगी ग्राम्य विकास मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह को सन्दर्भित करते हुये कहा कि उन्होने  सिंह से वार्ता किया है और उनसे कहा है कि वह आंवला उत्पादों के लिये बेहतर सुविधा उपलब्ध करवायें ताकि यहां के किसान भाई आंवला की खेती पूरी रूचि के साथ करें।


    किसानों और प्रदेश के अन्य लोगों के बेहतरी के लिये सरकार द्वारा उठाये गये कदमों की विस्तृत जानकारी देते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पहला अवसर है जबकि हमारी सरकार ने मार्च-2017 से लेकर कल तक के कुल गन्ना किसानों के देयकों का 55 हजार करोड़ से अधिक का भुगतान किया है जो कुछ राज्यों के समूल बजट से भी अधिक है। इसके अलावा प्रदेश में 2 करोड़ 60 लाख परिवारों को शौचालय की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है जिसमें अकेले प्रतापगढ़ जनपद में ग्रामीण क्षेत्रों में 3 लाख 74 हजार 174 शौचालय व शहरी क्षेत्रों में 7 हजार 421 शौचालयो का निर्माण कराकर जनपद को खुले में शौच से मुक्त किया जा चुका है। इसके अलावा प्रदेश में कुल 4 करोड़ परिवारों को जहां निःशुल्क विद्युत कनेक्शन दिया गया है वहीं कुल 6.50 करोड़ परिवारों को रसोई गैस का कनेक्शन दिया गया है। इसी योजना के तहत प्रतापगढ़ जनपद में 1 लाख 79 हजार 293 परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत प्रदेश में हमारी सरकार ने 5 करोड़ लोगों को 5 लाख रू0 तक की सीमा से निःशुल्क ईलाज की सुविधा गरीब परिवारों के लिये उपलब्ध करायी है और प्रतापगढ़ जनपद में इस योजना के तहत 31175 लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड का वितरण किया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना को विकास की एक महत्वाकांक्षी योजना बताते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि अकेले जनपद प्रतापगढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में 52451 एवं शहरी क्षेत्र में 1958 परिवारों को आवास उपलब्ध कराया गया है।


    केन्द्र में प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में सरकार ने विकास के नये आयाम स्थापित किया है जिसके नाते पूरी दुनिया में देश ने अपनी नई पहचान बनायी है। उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार ने मई 2014 में सत्ता सम्भाली थी तबसे लेकर फरवरी 2019 तक केन्द्र सरकार ने उत्तर प्रदेश को 13 मेडिकल कालेज, 03 एम्स के संस्थान व 01 कैन्सर संस्थान दिया है जबकि पूर्ववती सरकारो में उत्तर प्रदेश में केवल 13 मेडिकल कालेज स्थापित हुये थे और 13 मेडिकल कालेज केन्द्र सरकार ने अपने एक कार्यकाल में प्रदेश को दिया है जिसमें से प्रतापगढ़ में स्थापित होने वाला एलोपैथिक मेडिकल कालेज भी सम्मिलित है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 2021 तक मेडिकल कालेज जनपद में स्थापित हो जायेगा और यहां मेडिकल सत्र का प्रारम्भ हो जायेगा जहां 100 मेडिकल छात्रों को प्रथम सत्र में प्रवेश दिया जायेगा। यह प्रधानमंत्री जी के विकास मॉडल की विशिष्टता है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत देश के 12 करोड़ किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है जिसके तहत किसान भाईयों के खाते में 6000 रुपये का भुगतान भेजा जा रहा है। इसी योजना के तहत अकेले जनपद प्रतापगढ़ में 2 लाख 31 हजार 832 लघु एवं सीमान्त कृषकों को कुल 44.37 करोड़ की धनराशि वितरित कर लाभान्वित किया गया है। पुलवामा में शहीद हुये के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने शहीद परिवारों सहित देश की जनता से जो वादा किया था उसे इतनी अल्प अवधि में पूरा कर 300 से अधिक आतंकवादियों को हमारी वायु सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक-2 के माध्यम से प्रधानमंत्री के देश के समक्ष किये वादों को पूरा कर दिया जिस पर आज हर देशवासी को गर्व महसूस हो रहा है और पूरी दुनिया हमारी सैन्य क्षमता का लोहा मान रही है।


    इस अवसर पर दिव्य और भव्य कुम्भ की चर्चा करते हुये मुख्यमंत्री  ने कहा कि परसो तक प्रयागराज के पावन त्रिवेणी में 22 करोड़ श्रद्धालु स्नान कर पुण्य लाभ अर्जित कर चुके है और साढ़े चार सौ वर्षो के बाद प्रधानमंत्री  के हस्तक्षेप से यह अवसर कुम्भ आने वाले सभी स्नानार्थियों को शुलभ हो सका जब श्रद्धालुओं ने अक्षयवट का दर्शन कर रहे है। उन्होने कहा कि शुरूआती दौर में लोग उनसे कहते थे कि 8 से 10 करोड़ तक लोग कुम्भ में स्नान हेतु आयेगें जबकि मैं कहता था कि इस वर्ष कुम्भ की व्यवस्था जिस स्तर से की गयी है और देश विदेश में हमारी प्रदेश व केन्द्र सरकार ने पूरे दुनिया को आमंत्रित किया है उससे यह निश्चित है कि उत्तर प्रदेश की आबादी से अधिक लोग संगम त्रिवेणी में कुम्भ के अवसर पर स्नान हेतु आयेगें और आज मुझे यह बताते हुये अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है कि 22 करोड़ से अधिक की संख्या कुम्भ में आने वालों श्रद्धालुओं हो चुकी है जबकि अभी अनवरत स्नान चल रहा है और श्रद्धालुओं का ताता बना हुआ है। उन्होने इस अवसर पर प्रदेशवासियों का आवाहन भी किया कि मोदी जी के विकास मॉडल ने प्रदेश व देश को जो ऊॅचाई दी है उसके लिये प्रदेश व देश की जनता को उन्हें अवश्य कृतज्ञता ज्ञापित करना चाहिये।


  

 अपरान्ह में लगभग 2.15 बजे पुलिस लाइन हेलीपैड पर मुख्यमंत्री जी के पहुँचते  ही वहां उनका स्वागत कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’, जनपद की प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह, ग्राम्य विकास विभाग मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह, सांसद प्रतापगढ़ कुंवर हरिवंश सिंह, सांसद कौशाम्बी विनोद सोनकर, विधायक रानीगंज धीरज ओझा, विधायक सदर संगम लाल गुप्ता, विधायक विश्वनाथगंज डा0 आर0के0 वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्र सहित पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों सहित जिलाधिकारी मार्केण्डेय शाही, पुलिस अधीक्षक एस आनन्द ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। राजकीय इण्टर कालेज के मैदान में प्रारम्भ में मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्जवलन कर पूरे विधि विधान के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। मुख्यमंत्री का स्वागत करने वालों में कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह, शिक्षा एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग मंत्री आशुतोष टण्डन ‘‘गोपाल जी’’ प्रमुख है।  मोती सिंह ने जिले में नये मेडिकल कालेज की स्थापना के लिये मुख्यमंत्री जी के प्रति जनपद की जनता की ओर से आभार प्रदर्शित किया जबकि शिक्षा एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग मंत्री आशुतोष टण्डन ‘‘गोपाल जी’’ ने प्रधानमंत्री जी के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुये कहा कि जहां केन्द्र सरकार ने अपने इस कार्यकाल में देश को 88 नये मेडिकल कालेज दिये है वहीं अकेले उत्तर प्रदेश में 13 मेडिकल कालेज देकर प्रधानमंत्री जी ने मुख्यमंत्री जी की मांग को पूरा कर प्रदेशवासियों को दिल जीत लिया है। इस अवसर पर बेल्हा नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष प्रेमलता सिंह ने पुलवामा में शहीद के परिवारों के लिये 2 लाख 75 हजार के सहायता की चेक मुख्यमंत्री को भेट किया। इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के कुल 22 लाभार्थियों को मुख्यमंत्री जी ने प्रमाण पत्र दिया। इनमें प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के निर्मला, राजकली, कुसुम देवी, अमरूल निशा, गुड़िया, सोम्मारी व गीता, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के अफरोज बानो, रीता शर्मा, दिलीप कुमार गुप्ता, रमा देवी, मनोज कुमार यादव सम्मिलित है। इसके अलावा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 05 लोगों को प्रमाण पत्र दिया गया जिनमें रमेश कुमार तिवारी, अरूण कुमार सिंह, राम सूरत मौर्या, संगीता तिवारी, गोविन्द कुमार सम्मिलित है। प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के तहत लाभान्वित होने वालों में माधुरी, राधे श्याम सरोज, आशीष पाण्डेय, अच्छे लाल, मुन्नी लाल के नाम सम्मिलित है।


    आज के इस समारोह में मंच पर उपस्थित होने वालों में जनपद की प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह, सांसद कुंवर हरिवंश सिंह, सांसद विनोद सोनकर, विधायक सर्व संगम लाल गुप्ता, धीरज ओझा, डा0 आर0के0 वर्मा के अलावा पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा ओम प्रकाश त्रिपाठी, वर्तमान जिलाध्यक्ष हरिओम मिश्रा, पूर्व विधायक हरि प्रताप सिंह, पूर्व विधायक बृजेश सौरभ, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद बेल्हा प्रेमलता सिंह, कैबिनेट मंत्री के प्रतिनिधि विनोद पाण्डेय सहित पार्टी के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी की उपस्थिति विशेष रही। कार्यक्रम का संचालन प्रयागराज की प्रसिद्ध उद्घोषिका डा0 रंजना त्रिपाठी ने किया जबकि सभी के प्रति आभार प्रदर्शन ग्राम्य विकास विभाग मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह ने किया। 

To Top