सिंधु जल संधि को तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाए - मुजीब

Publish 16-02-2019 16:02:09


सिंधु जल संधि को तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाए - मुजीब

कोटद्वार/पौड़ी : उत्तराखण्ड विकास पार्टी के अध्यक्ष मुजीब नैथानी ने कहा कि भारत सरकार को जवानों की शहादत पर तीन दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित करना चाहिए। जब किसी वीआईपी की मौत होती है तो राष्ट्रीय शोक घोषित होता है। आज देश के वीवीआईपी सेना और अर्धसैनिक बलों के वे जवान  हैं जो अपनी जान की परवाह ना करते हुए देश को सुरक्षित रख रहे हैं। ऐसे में उनकी शहादत पर राष्ट्रीय शोक घोषित करना हमारा कर्तव्य बनता है। वर्तमान परिस्थितियों में अर्ध सैनिक बलों के जवानों को भी शहीद का दर्जा मिलना चाहिए और फौज की सारी सुविधाओं की समीक्षा कर अर्ध सैनिक बलों के जवानों को भी उन सुविधाओं का हकदार बनाना चाहिए।
मुजीब नैथानी ने कहा कि भारत सरकार सिंधु जल संधि को भी तत्काल प्रभाव से निरस्त करे और कश्मीर में बांधों का निर्माण सैन्य दृष्टि से हो। हमारे लिए पड़ोसी धर्म से ज्यादा जरूरी देशहित है। मुजीब नैथानी ने बलूचिस्तान को तुरन्त अलग देश की मान्यता देने , भारत का उच्चायुक्त पाकिस्तान से वापस बुलाने और समस्त व्यापार सम्बन्ध खत्म कर लेने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के यात्री हवाई जहाजों को भी भारत की सीमाओं का प्रयोग ना करने दिया जाय इससे पूर्वी देशो के साथ पाकिस्तान के सम्बंध कठिन हो जायेगे क्यों कि तब उन देशों की यात्रा हजारों किलोमीटर ज्यादा जा कर पूरी हो पाएगी। ये उपाय आर्थिक रूप से खस्ताहाल पाकिस्तान को खत्म कर देंगे।

To Top