*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400, ऑफिस 01332224100 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

टिहरी हादसे के बाद हरकत में आया शिक्षा विभाग, 18 विद्यालयो को कारण बताओ नोटिस जारी

10-08-2019 14:38:48

कोटद्वार । टिहरी हादसे के बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया है। कोटद्वार में बिना मान्यता के चल रहे 18 निजी स्कूलों पर बंदी की तलवार लटक रही है। शिक्षा विभाग ने टिहरी में एक स्कूल में मानकों की अनदेखी के चलते मासूम बच्चों की मौत के बाद अब इन स्कूलों पर शिकंजा कस दिया है।


कोटद्वार में शिक्षा विभाग की नाक के नीचे बिना मान्यता के चल रहे निजी स्कूलों पर अब विभाग कड़ा एक्शन लेने के मूड में हैं। पिछले दिनों टिहरी में सड़क हादसे में दस बच्चों की मौत के बाद सामने आया था कि जिस स्कूल में यह सभी बच्चे पढ़ते थे उसकी मान्यता ही नहीं थी और स्कूल प्रबंधन अवैध रुप से स्कूल का संचालन कर रहा था। इस मामले में शिक्षा विभाग की भी बड़ी लापरवाही सामने आई थी। इसके बाद प्रदेश में ही शिक्षा विभाग हरकत में आ गया है। कोटद्वार में भी उप शिक्षा अधिकारी प्राथमिक शिक्षा दुगड्डा ब्लॉक ने 18 निजी स्कूलों को कारण बताओ नोटिस भेजकर उनसे जवाब मांगा है। अब शिक्षा विभाग ने 18  निजी स्कूलों को कारण बताओ नोटिस भेजकर उनसे जवाब मांगा है। जवाब सही न दिए जाने पर विभाग का कहना है कि स्कूल सीधा बंद कराए जाएंगे।


उप शिक्षा अधिकारी दुगड्डा अभिषेक शुक्ला ने बताया कि कार्यालय के अभिलेखानुसार इन विद्यालयों की मान्यता हेतु न तो कोई पत्रावलियां इस कार्यालय को प्राप्त हुई है। ये विद्यालय या तो बिना मान्यता के चल रहे है या पूर्व में मान्यता प्राप्त थे, लेकिन वर्तमान में इनकी मान्यता अवधि समाप्त हो चुकी है। उन्होंने बताया कि नोटिस भेजकर इन विद्यालयों को चेतावनी दी गई है कि अगर इनकी मान्यता समाप्त हो चुकी है तो वे तत्काल अपना विद्यालय संचालन बंद कर दें। इसके अतिरिक्त विद्यालय प्रबंधन द्वारा बच्चों के आवागमन हेतु किसी भी प्रकार की वाहन सुविधा उपलब्ध कराई गई है तो वह भी तत्काल बंद कर दे। उन्होंने कहा कि अग्रिम माह में निजी विद्यालयों हेतु सघन निरीक्षण किये जाने पर यदि कोई बगैर मान्यता प्राप्त विद्यालय संचालित होते हुए पाया गया तो सुसंगत विधिक धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कराते हुए विद्यालय को सीज करने की कार्यवाही भी की जायेगी तथा अनुबंध दरों के हिसाब से प्रतिदिन का दण्डात्मक शुल्क भी वसूल किया जायेगा।

इन विद्यालयों को जारी हुआ कारण बताओ नोटिस

अभिषेक शुक्ला उप शिक्षा अधिकारी ने बताया कि भगवाना देवी शिक्षा निकेतन नजीबाबाद रोड, बाल शिक्षा निकेतन काशीरामपुर, बीवीसएन पब्लिक स्कूल मानपुर, ऋषि बाल शिक्षा निकेतन लालपानी, बाल विद्या निकेतन पदमपुर, बाल शिक्षा निकेतन विकास नगर कोटद्वार, चन्द्रज्योति पब्लिक प्राइमरी स्कूल मोहरा, ज्ञानवृक्ष पब्लिक स्कूल मानपुर, सरस्वती विद्या मंदिर कालाबड़, शांति इंटरनेशनल दुर्गापुर, बलूनी पब्लिक स्कूल नजीबाबाद रोड, माँ धारी पब्लिक स्कूल बालासौड़, सरस्वती शिशु मंदिर नालीखाल, सरस्वती शिशु मंदिर पौखाल, एमकेवीएन शिब्बूनगर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।