*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

शहर के आटो चालक यातायात के नियमों की उडा रहे है धज्जियाँ

14-07-2019 16:39:55

कोटद्वार (गौरव गोदियाल): शहर में सैकड़ो ऑटो चालक यातायात नियम की धज्जियां उडा रहे है। चालक अपने मन के मुताबिक कही भी ऑटों खड़ा कर यातायात नियम को ठेंगा दिखा रहे है। वहीं शहर में ऐसे कई ऑटों है, जिनको चलाने वाले के पास लाइसेंस तक नही है व कई आटो बिन नंबर के ही दौड़ रहे है। बिना नंबर के ऑटो व बिना लाइसेंस के आटो चालकों में लगाम लगाने के लिए पुलिस यातायात विभाग व परिवहन विभाग इस ओर कोई गंभीरता नहीं दिखा रही है, जिसके चलते इन ऑटो चालकों के हौसले बुलंद है। ऑटो चालक ग्राहक लेने के चक्कर में कही भी ऑटो को स्टापेज कर रहे है। इसके कारण पीछे चल रहे वाहन चालकों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ज्यादा ग्राहक कवर करने के चक्कर में ऑटो चालक एक  किलोमीटर के दायरे में तीन से चार बार ऑटों का सड़क में ही रोक देते है।


क्षमता से ज्यादा यात्री
चालक ज्यादा राशि कमाने के चक्कर में निर्धारित क्षमता से अधिक यात्री डोह रहे है।इसी के चलते रविवार को सिद्धबली मंदिर जाने वाले आटो सीट के अलावा दो सवारी अपने बगल में व दो-तीन सवारी पीछे लटक कर जाती रही ।हैरानी की बात यह थी कि यह सब आटो झंडाचौक,कोतवाली,सीओ आफिस ,तहसील के आगे से निकलकर बेखौफ जा रहे थे ।यह आटो चालक निर्धारित क्षमता की अनेदखी कर लोगों के जान से खिलवाड़ कर रहे है। यदि इस ओर काई ध्यान नहीं दिया गया तो कभी भी बड़ी दुघर्टना घटित हो सकती है। लेकिन यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने का दम भरने वाली पुलिस व परिवहन विभाग इस आरे ध्यान नही दे रहा है।
तय नहीं है राशि
राहगीरों को कई बार ऑटो चालकों के साथ बहस बाजी करने की भी नौबत आ जाती है, इसका मुख्य वजह यह है, कि ऑटो चालकों द्वारा दूरी के हिसाब से राशि निर्धारित नहीं करना है। कई बार चालक राहगीरों से बड़ी राशि भी वसूल लेते है।
क्या कहते है अधिकारी
परिवहन कर अधिकारी प्रथम शशी दुबे ने बताया कि अभियान चला कर गाड़ियों की जांच करायी जाती है ।इसके लिए निर्देश भी जारी किया जाता है । खास कर नियम तोड़ने वाले सवारी गाड़ियों के चालक और मालिक दोनों पर कार्रवाई की जाती है । इसके लिए समय - समय पर नियमित चैकिंग कर चालान किया जाता है। चैकिंग में अभी तक बिना लाइसेंस के कोई भी नहीं पाया गया है यदि भविष्य में पाया जायेगा तो उचित कार्यवाही की जायेगी ।