होम्योपैथिक इलाज में बढती आम जनमानस की लोकप्रियता

Publish 26-03-2019 17:05:05


होम्योपैथिक इलाज में बढती आम जनमानस की लोकप्रियता

 

वरिष्ठ पत्रकार देवेन्द्र सिंह के आकस्मिक निधन पर कोटद्वार के पत्रकारों ने शोक सभा का आयोजित कर दिवंगत पत्रकार को श्रद्धासुमन अर्पित किये। तथा दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है।

कोटद्वार। कोटद्वार के वरिष्ठ पत्रकार देवेन्द्र सिंह रावत का हृदय गति रूकने से निधन हो गया ।उन्होने सहारा समय व अनेको समाचार पत्रो में कार्य किया ।उनका जाना पत्रकारिता के लिए बड़ा नुकसान है। राज्य आंदोलन से लेकर पत्रकारिता के अपने पूरी जीवन में उन्होंने हमेशा जनमुद्दों की पत्रकारिता की। लोग उनके पास अपनी समस्याएं लेकर आते थे और वह उनके साथ बिना कुछ सोचे चल पड़ते थे। उनका जोश और जुनून देखने लायक था । उनका जाना पत्रकारिता जगत के लिए बहुत बड़ी क्षति है ।बुधवार सायं लगभग चार बजे उनको सीने में दर्द की शिकायत हुयी जहां से उपचार के लिए उन्हें राजकीय बेस चिकित्सालय कोटद्वार लाया गया जहाँ उपचार के दौरान हृदय गति रुकने से उनका निधन हो गया । वह अपने पीछे धर्मपत्नी सहित दो बेटी व एक बेटा छोड़ गये ।बृहस्पतिवार को हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार किया गया ।उनकी चिता को उनके बेटा व बेटी द्वारा मुखाग्नि दी गयी । नगर निगम के सभागार में आयोजित शोक सभा में वक्ताओं ने दिवंगत पत्रकार देवेन्द्र सिंह को लेखनी का धनी व्यक्ति बताते हुए उनके निधन को पत्रकारिता में बहुत बड़ी क्षति बताया। कहा कि देवेन्द्र सिंह ने पत्रकारिता धर्म को निभाते हुए जनसरोकारों की भी लडाई लड़ने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। कोटद्वार के पत्रकारों ने प्रदेश सरकार सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों से दिवंगत पत्रकार के परिजनों को आर्थिक मद्द दिये जाने के लिए आगे आने की अपील की है। शोक सभा में निर्णय लिया गया कि आगामी 10 सितम्बर 2018 को ऑडोटोरियम में श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन कर दिवंगत पत्रकार देवेन्द्र सिंह को श्रद्धासुमन अर्पित किये जायेगें। शोक सभा में चन्द्रमोहन शुक्ला, सुधीन्द्र नेगी, नागेन्द्र उनियाल, पंकज पस्बोला, अजय खंतवाल, अनूप मिश्रा, राजेन्द्र शिवाली, आशीष बलोधी, रणवीर सिंह चौहान, गिरीश तिवारी, चन्द्रजीत बिष्ट, कमल बिष्ट, विमल ध्यानी, चन्द्रेश लखेड़ा, रोहित लखेडा, सूरज प्रसाद कुकरेती, उम्मेद सिंह रावत, धर्मवीर गुंसाई, राजगौरव नौटियाल, राजेश सेमवाल मृदुल, सुभाष नौटियाल, जीतेन्द्र भाटिया, वैभव भाटिया, गणेश काला, दिलीप कश्यप, अशोक केष्टवाल, पुष्कर पंवार, अनूप थपलियाल, पवन बंसल, शराफत अली, हिमांशू बडोनी, मनोज सिंह, बृजमोहन जदली, प्रेम बलोधी, उमेश नौटियाल, आशीष किमोठी, मनोज नौडियाल, दीपक सुयाल, नरेश थपलियाल, शोभा बहुगुणा भंडारी, प्रमोद राणा,राजीव कोठारी, देवेन्द्र नेगी, विनोदचंद्र कुकरेती मौजूद थे।

 

 

To Top