*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

सर्पदंश के मद्देनजर वन विभाग से मांगे एंटीवेनम

18-07-2019 22:12:35

कालागढ़ (कुमार): मानसून के शुरू होते ही कालागढ़ क्षेत्र में साँपो का खतरा बहुत बढ़ जाता है जिसको देखते हुए कालागढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी देवेन्द्र प्रसाद ने वन विभाग से एंटी वेनम उपलब्ध कराने की मांग की है । कॉर्बेट नेशनल पार्क के सीमा से सटे कालागढ़ में विभिन्न प्रकार के साँपो की प्रजाति पाई जाती है । जिनमे करैत ,कोबरा और  रसैल वाइपर बेहद जहरीले होते है और यह साँप बहुतायत में कालागढ़ क्षेत्र में नजर आते है बरसात शुरू होते ही साँप सूखे की तलाश में लोगो के घरों में घुस जाते है और अनजाने में उन्हें काट लेते है जिसका सही उपचार ना मिलने के कारण लोगो की मृत्यु हो जाती है । सही जानकारी ना होने के कारण कालागढ़ के सीमावर्ती गांवों में अब तक सर्पदंश से कई लोगो की मौत भी हो चुकी है ।

कालागढ़ में ऐसी कोई अप्रिय घटना ना हो इसी खतरे को देखते हुए कालागढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ देवेंद्र प्रसाद ने वन विभाग को पत्र लिखकर एंटी वेनम की मांग की है । देवेन्द्र प्रसाद ने बताया कि हर रोज लोगो के घरों में साँप के घुसने की खबर आ रही है ऐसे में सर्पदंश की संभावना बनी रहती है जिस कारण मैंने वन विभाग से स्नेक एंटी वेनम की मांग की है ताकि अगर किसी को सांप काटे तो हम तैयार रहे । इस मामले में कालागढ़ उप प्रभागीय वनाधिकारी आर के तिवारी ने बताया कि पीएचसी से पत्र प्राप्त हुआ है हम जल्द ही पीएचसी को एंटी वेनम के कुछ वायल उपलब्ध करा देंगे ताकि कालागढ़ सर्पदंश से किसी की अकाल मृत्यु ना हो सके ।

"वन विभाग व सर्पमित्र ने की सावधानी बरतने की मांग"
कालागढ़ वन विभाग व सर्पमित्र दीपक ने लोगो से बरसात में सावधानी बरतने की मांग की है बकौल एसडीओ आर के तिवारी रात में टॉर्च लेकर ही निकले व घरों के आस पास गन्दगी व कूड़ा ना जमा होने दे व घर को भी साफ रखें क्योंकि कूड़ा और घर मे बिखरा पड़ा सामान साँपो के छुपने की अच्छी जगह होती है और यदि कही साँप दिखे तो वन विभाग को तुरंत सूचना दे ।
सर्पमित्र दीपक ने बताया कि कालागढ़ में धामन , अजगर , कीलबैक , वुल्फ स्नेक , कॉमन कुकरी, कैट स्नेक , कॉमन ट्रिकेंट ब्रोंजबैक ट्री स्नेक , ग्रास स्नेक करैत , कोबरा व रसेल वाइपर मिलते है जिनमे से केवल कोबरा , करैत और रसैल वाइपर ही जहरीले होता है कोबरा दिन में सक्रिय होता है और करैत व वाइपर रात को निकलते है इनसे बेहद दूरी बनानी जरूरी होती है  इनके काटने पर बेहद दर्द होता है और आदमी कुछ ही घण्टो में मौत की नींद सो जाता है । इसलिए कभी भी साँप दिखे तो उससे दूरी बनाते हुए वन विभाग को फोन करे और किसी को कभी सर्पदंश होता है तो तांत्रिक और झाड़फूंक के चक्कर मे पड़कर बिना एक पल की देरी किये मरीज को लेकर कालागढ़ पीएचसी आये क्योंकि सिर्फ एंटी वेनम ही सर्पदंश का एकमात्र दवा है ।