प्रधानमत्री मोदी कर सकते है कालागढ़ का दौरा, क्षेत्र में ख़ुशी की लहर

Publish 13-02-2019 19:00:02


प्रधानमत्री मोदी कर सकते है कालागढ़ का दौरा, क्षेत्र में ख़ुशी की लहर

कालागढ़/पौड़ी गढ़वाल (कुमार):  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अचानक कालागढ़ आने की खबर को लेकर जहाँ पूरा क्षेत्र अचंभित है वही इस खबर से स्थानीय नागरिकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है।  बता दे कि पीएम की उत्तराखंड के रुद्रपुर में 14 फरवरी को एक जनसभा है । सुत्रो की माने तो पीएम जनसभा के पहले या बाद में कालागढ़ भ्रमण पर आ सकते है । जहाँ वो मुख्य बांध व कॉर्बेट टाईगर रिज़र्व सफारी भी कर सकते है । हालाँकि पीएम के आने की खबर को मीडिया से छुपाया जा रहा है और स्थानीय पत्रकारों को किसी भी प्रकार की कवरेज के लिए मना कर दिया गया है । पुलिस प्रशासन की माने तो भिक्कावाला सेंट मैरी स्कूल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के कार्यक्रम की सुरक्षा का जायजा लेने के लिए हेलीकॉप्टर में से एसपीजी ने निरीक्षण किया साथ ही आसपास के किसानों ने अपने अपने खेतों पर से हेलीकॉप्टर को देखकर फोटो ली सुरक्षा की दृष्टि से एसपी देहात विश्वजीत सिंह श्रीवास्तव ने मैदान के आसपास के स्थानों पर निरीक्षण किया और सुरक्षा की दृष्टि से पूरे सेटं मेरी स्कूल के मैदान का जायजा लिया इस अवसर पर ग्रामीणों ने खेतों में से हेलीकॉप्टर की फोटो लेकर अपने खुशी जाहिर की भिक्कावाला सेंट मैरी स्कूल के छात्रों ने पहले बार देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के सुरक्षा की दृष्टि से हेलीकॉप्टर को उतरते देख खुशी से फूले नहीं समाए ।


प्रधानमंत्री के सम्भावित कालागढ दौरे के चलते मंगलवार को देर शाम कालागढ की नई कालोनी स्थित रामलीला मैदान में अचानक हैलीपैड निर्माण का काम शुरू करते हुये वहां बड़े पैमाने पर पुलिसबल तथा खुफियाकर्मियों को तैनात किया गया था। बताया जा रहा है कि इस दौरान एसडीएम कोटद्वार अनिल चैनियाल द्वारा मौके का निरीक्षण कर सम्बंधित कर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये गये थै। लेकिन देर रात कार्यक्रम में आंशिक बदलाव कर दिये जाने के बाद बुधवार को सारा अमला इस्लामनगर ग्राम पंचायत के ग्राम भिक्कावाला स्थित सेंट मैरीस इंटर कालिज के मैदान में पंहुचा तथा नापतौल करने के बाद यहां हैलीपैड का निर्माण किया गया। पीएमओ सहित मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारियों के अमले  द्वारा सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया तथा सबकुछ दुरूस्त पाये जाने के बाद हैलीकाप्टरों की लैंडिंग कराकर पुर्नभ्यास किया गया। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुये किसी भी व्यक्ति खासकर मीडिया को हैलीपैड के आसपास नहीं फटकने दिया गया। उधर प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को पूरी तरह गोपनीय रखे जाने के कारण मौके पर मौजूद अधिकारियों द्वारा इस सम्बंध में कुछ भी कहने से परहेज किया जा रहा है। अलबत्ता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कालागढ दौरे सम्बंधी कार्यक्रम को निश्चित जरूर बताया जा रहा है


प्रधानमंत्री के कालागढ दौरे के यहां सडकों की तस्वीर बदल गयी है सिचाई विभाग ने रातों रात कालागढ़ के बड़े बड़े गड्ढो को मिट्टी व पत्थर से पाट दिया है। प्रधानमंत्री के कालागढ आगमन के मद्देनजर पुराना कालागढ से मुख्य बांध जाने वाली खस्ताहाल सडक की मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया। बुधवार को सुबह शुरू किया गया सडक की मरम्मत का काम देरशाम तक जारी रहा तथा सडक की तस्वीर पूरी तरह बदल गयी।

स्थान परिवर्तन न होता तो बदल जाती कालागढ़ की सडको की किस्मत
स्थानीय लोगो का कहना है कि  प्रधानमंत्री के हैलीकॉप्टर की लैण्डिगं के लिये बनाये जा रहे हैलीपैड के स्थान में परिवर्तन नहीं किया जाता तो शायद कई दशक से यहां की खस्ताहाल सडकों की किस्मत भी बदल जाती वही हैलीपैड स्थल में बदलाव किये जाने के बाद अनेक सवाल उठने लगे हैं। नई कालोनी में प्रस्तावित हैलीपैड स्थल के आसपास बीते दिनों ध्वस्त किये गये भवनों के मलवे पर प्रधानमंत्री की नजर पडने की आशंका के चलते अचानक हैलीपैड निर्माण स्थल में बदलाव किये जाने के कयास भी लगाये जा रहे है। पहले हेलीपैड कालागढ़ रामलीला मैदान में बनना प्रस्तावित हुआ था परन्तु भयंकर तबाही व टूटे हुए सैकड़ों घरों को देखकर पीएम कही इस बर्बरता का कारण ना पूछ लें इसलिए हेलीपैड को कालागढ़ से भिककावाला गाँव मे बना दिया गया । सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासनिक अधिकारीगण पुलिस क्षेत्राधिकारी कृपाशंकर कनौजिया,एसआई गंगाराम गंगवार, रेहड़ थानाध्यक्ष आशीष तोमर, शेरकोट थानाध्यक्ष पंकज कुमार तोमर थानाध्यक्ष रियाज अहमद व भारी मात्रा में पुलिस फोर्स उपस्थित रही ।

To Top