बर्फवारी व वर्षा से हुए लोग परेशान

Publish 21-02-2019 14:46:19


बर्फवारी व वर्षा से हुए लोग परेशान

गोपेश्वर/चमोली(जगदीश पोखरियाल)।  बुधवार की रात्रि से लगातार हो रही वर्षा और हिमपात से चमोली जिले का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। शीतलहर के चलते लोगों का घरों से बाहर निकलना दुभर हो गया है। ठंड के कारण लोग घरों में ही दुबके हुए है। वहीं चमोली के उंचाई वाले स्थान, बदरीनाथ, हेमकुंड, घांघरिया, औली, गौरसों, चोपता व नीती घाटी के गांवों में बर्फवारी हो रही है। पहले से ही इन स्थानों पर छह से सात फीट तक बर्फ जमी है। ऐसे में और अधिक बर्फवारी से इन स्थानों पर बर्फवारी परेशानी का सबब बनता जा रहा है।

 

बुधवार की रात्रि से लेकर गुरूवार तक चमोली जिले के नीचले स्थानों पर बारिश और उंचाई वाले स्थानो पर बर्फवारी हो रही है। जिससे शीत लहर का प्रकोप बढ गया है। वातावरण में काफी ठंड हो रही है। बढती ठंड से लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे है। वहीं उंचाई वाले स्थानों पर बर्फवारी से जनजीवन और भी अस्त व्यस्त हो गया है। इस वर्ष अन्य वर्षों  की तुलना में काफी अधिक बर्फवारी हो रही है। जिसका स्थानीय लोगों ने अनुमान नहीं लगाया था। उंचाई पर रहने वाले लोग हर वर्ष शीतकाल में घरों में पूरी सामग्री इस तरह के एकत्र करते है कि ताकि बर्फवारी और वर्षा के कारण उनके परेशानी न हो मगर इस बार हुई बर्फवारी ने लोगों के अनुमान को गलत साबित कर दिया है। जोशीमठ क्षेत्र के संजय कुंवर कहते है कि पिछले 13 सालों में पहली बार इतनी बर्फवारी हुई है। यदि यही हाल रहा तो दूरस्त इलाकों के लोगों को काफी परेशानी हो सकती है।

To Top