पुलवामा घटना के विरोध में लगे पाकिस्तान विरोधी नारे, फूंका झंडा

Publish 15-02-2019 13:59:40


पुलवामा घटना के विरोध में लगे पाकिस्तान विरोधी नारे, फूंका झंडा


बैठक आयोजित कर कबूतरी देवी को दी श्रद्धांजलि
अल्मोड़ा।  |
घुघुति कला सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था की ओर से यहॉ हुईं बैठक में  उत्तराखंड की प्रथम महिला लोक गायिका तीजनर्बाइं (कबूतरी देवी) के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान लोक संस्कृति के क्षेत्र में  कबूतरी देवी द्वारा किए गए कार्याे एवं योगदान को आने वाली पीढ़ी तक पहॅुचाने के लिए उनके नाम पर योजनाएं, छात्रवृत्ति एवं पुरस्कार दिए जाने की मांग पुरजोर तरीके से उठाईं गईं। तथा उनके परिवार को आर्थिक सहायता के तौर पर पॉच लाख दिए जाने की भी वकालत की गई।
 बैठक में लोक गायिका कबूतरी देवी के निधन पर प्रदेश के कलाप्रेमियों, प्रसाशनिक अमले की उदासीनता पर रोष प्रकट किया गया। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि कबूतरी देवी ने लोक-संस्कृति को विषम परिस्थितियों संवारने का काम किया। कहा कि उन्होंने लोक संस्कृति की बागडोर उस समय अपने हाथों में ली जब महिलाओं का खुले में आने पर पाबंदी थी। साथ ही उन्होंने संगीत जैसे विषय में जिसमें पुरूषों का वर्चस्व था, बढ-़चढ़कर भागीदारी ही नहीं की बल्कि, लोक संस्कृति को नईं बुलंदियों तक पहुंचाया। वक्ताओं ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके निधन पर सरकार द्वारा किया गया उदासीनता रूख सरकार की कथनी एवं करनी के अंतर को दर्शाता है। संस्था ने मांग करते हुए कहा कि कबूतरी देवी के परिवार को सरकार द्वारा आर्थिक सहयता के तौर पर पांच लाख रूपये की धनराशि दी जाए, लोकसंस्कृति में उनके नाम पर पुरूस्कार की घोषणा, संस्कृति विभाग में उनकी आदमकद मूर्ती लागाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि कबूतरी देवी के नाम पर लोक कल्याण योजनाये चालने जाने, लोककला के क्षेत्र में काम करने वाले कलाकारों को छात्रवृत्ति दी जाए, कबूतरी देवी के जीवन पर संस्कृति विभाग पुस्तक प्रकाशित करने ताकि, संगीत प्रेमी आने वाली पीढ़ी लोक संस्कृती में उनके योगदान को जान सकंे। गोष्ठी में संस्था के अध्यक्ष कुंवर राज, अक्षय कुमार, रविंद्र आर्या, संजय कुमार, दिेनेश राज, राजेंद्र राम, अक्षय कोहली, मनष कुमार, राकेश कुमार, ममता आर्या, कमल पपोला, भावना आर्या, चंपा आर्या आदि मौजूद थे।

To Top