*** सभी ग्रामवासियों को गाँधी जयंती और विजय दशमी दशहरा की हार्दिक शुभकामनायें - शेर अली , प्रधान प्रत्याशी पति ग्राम पंचायत रायापुर *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

नगर पालिका गोपेश्वर के दोहरे मापदण्ड : ये कैसा कानून, दूसरा करे तो अवैध, स्वयं करे तो वैध

05-10-2019 15:31:27

गोपेश्वर/चमोली । देवभूमि उत्तराखण्ड के चमोली जिला मुख्यालय गोपेश्वर की नगर पालिका नगर क्षेत्र में जहां अतिक्रमण को लेकर सजग होने का दावा कर रही है। वहीं जिला मुख्यालय पर पालिका स्वयं ही नियमों को अनदेखा कर चमोली-ऊखीमठ सड़क के किनारे की भूमि पर निर्माण कार्य करवाया जा रहा है। जिससे स्थानीय लोगों में पालिका के इस दोहरे रवैये को लेकर नाराजगी बनी हुई है।

 

बता दें कि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के नियम के अनुसार सड़क के मध्य बिंदु से दोनों ओर 12 मीटर भूमि अधिगृहीत की श्रेणी में आती है। जिसके अनुसार उक्त भूमि सड़क का रख-रखाव करने वाले विभाग के नाम दर्ज होती है। ऐसे में जहां लोनिवि की एनएच इकाई की ओर से चमोली-गोपेश्वर-ऊखीमठ मोटर मार्ग पर बड़े पैमाने पर वर्षों से बने आवासीय भवनों को अतिक्रमण की श्रेणी में रखते हुए चिन्हित किया गया है। वहीं बीते नगर में अतिक्रमण के विरुद्ध पालिका प्रशासन ने अभियान चलाकर तहसील प्रशासन की मौजूदगी में कुछ भूमिहीन परिवारों भवनों को ध्वस्त कर दिया था। लेकिन अब पालिका की ओर नगर के हॉस्पिटल बैंड पर सड़क के मध्य बिन्दु से महज तीन से चार मीटर की दूरी पर प्रतिक्षालय निर्माण करवाया जा रहा है। जिससे यहां स्थानीय लोगों में पालिका के दोहरे मापदंडों को लेकर लोगों में नाराजगी है। स्थानीय निवासी अनिरुद्ध, अवनीश कुमार और रुप सिंह का कहना है कि जहां पालिका की ओर से अवैध निर्माण के नाम पर गरीब लोगों के भवन क्षतिग्रस्त किये गये है। वहीं स्वयं नियमों के विरुद्ध प्रतिक्षालयों का निर्माण किया जा रहा है। हालांकि पालिका के अधिकारियों का कहना है कि हास्पीटल बैंड पर खाली पड़ी सरकारी भूमि पर हो रहे अतिक्रमण को रोकने की मंशा से अस्थाई प्रतिक्षालय का निर्माण करवाया जा रहा है।

 

क्या कहते है अधिकारी
विभागीय निमयों के अनुसार हाईवे के दोनों ओर 12 मीटर तक (जिसमें नाप भूमि भी शामिल है) की भूमि अधिगृहीत की श्रेणी में आती है। नगर पालिका गोपेश्वर की ओर से हाईवे पर निर्माण कार्य किये जाने का मामला अभी संज्ञान में नहीं है, यदि पालिका की ओर से कहीं बिना अनुमति निर्माण करवाया जा रहा है तो इसे दिखवाया जाएगा। साथ ही मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
जीतेंद्र त्रिपाठी, अधिशासी अभियंता, एनएच लोनिवि गोपेश्वर।