*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

उद्यान विभाग में कर्मचारियों की कमी काश्तकारों पर पड़ रही भारी

16-06-2019 19:56:14

गोपेश्वर/ चमोली (जगदीश पोखरियाल)। चमोली जिले के उद्यान विभाग में कर्मचारियों की कमी यहां के काश्तकारों पर भारी पड़ रही है। सरकार की ओर से संचालित उद्यानीकरण की योजनाओं का काश्तकारों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। कर्मचारियों की कमी के चलते जिले में बीज वितरण के साथ उत्पादों के विपणन की व्यवस्था को लेकर भी दिक्कतें पैदा हो रही हैं। जिले में उद्यान विभाग में अधिकारी व कर्मचारियों के स्वीकृत 290 पदों में से 186 पद लंबे समय से रिक्त चल रहे हैं। ऐसे में केंद्र सरकार की 2022 तक किसानों की आय जिले में कैसे दोगुनी होगी सवाल बना हुआ है।
चमोली जिले में उद्यान विभाग से करीब 40 हजार काश्तकार जुड़े हुए हैं। केंद्र सरकार की ओर से वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसे लेकर जिला प्रशासन की ओर से भी कवायद की जा रही हैं। लेकिन अधिकारियों और कर्मचारियों की कमी के चलते यहां सरकारों की ओर संचालित योजनाओं का जिले में काश्तकारों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। यहां जिले उद्यान निरीक्षक के स्वीकृत आठ पदों में से चार पद रिक्त हैं। जबकि सहायक उद्यान अधिकारी के सृजित 27 पदों में से 21 पद रिक्त पडे हुए हैं। थराली के प्रगतिशील किसान भक्तदर्शन सिंह रावत और सुनीता देवी का कहना है कि कई बार विभाग की ओर से समय पर बीज उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। जिसके चलते उन्हें खुले बाजार से महंगे दामों पर बीज खरीदना पड़ रहा है। इसके साथ विभाग की ओर से समय पर तकनीकी जानकारी भी नहीं मिलने से दिक्कतें पैदा हो रही हैं।

क्या कहते अधिकारी
विभाग में रिक्त पड़े उद्यान निरीक्षक समेत कई अन्य कर्मचारियों की तैनाती के लिये जिला स्तर के साथ ही शासन स्तर पर पत्राचार किया गया है, लेकिन वर्तमान तक अधिकारियों और कर्मचारियों की तैनाती नहीं हो सकी है। जिससे सीमित मानव संसाधन में ही विभागीय कार्यों का संचालन करवाया जा रहा है।
नरेंद्र यादव, जिला उद्यान अधिकारी, चमोली