गणाई के ग्रामीणों को जगी सड़क की आस

Publish 30-03-2019 18:57:46


गणाई के ग्रामीणों को जगी सड़क की आस

गोपेश्वर/चमोली (जगदीश पोखरियाल):  चमोली जिले के जोशीमठ विकास खंड के गंणाई और दाड़मी गांवों के ढाई हजार ग्रामीणों को अब सडक सुविधा मिलने की आस जग गई है। यदि सब कुछ योजना के अनुसार चला तो चालू वित्तीय वर्ष के अंत तक यहां प्रथम चरण में पांच किमी पातालगंगा से गणाई गांव तक सडक निर्माण कार्य शुरु हो जाएगा। लोनिवि के अधिकारियों के अनुसार सडक निर्माण के लिये भूगर्भीय रिपोर्ट मिल गई है। जिसके बाद अब विभाग की ओर से सडक की कार्ययोजना तैयार की जा रही है।
गणाई और दाडमी गांव के ग्रमीण के ग्रामीण वर्तमान तक अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिये मीलों की पैदल दूरी नाप रहे थे। जिसके लेकर ग्रामीणों की ओर से कई बार शासन और प्रशासन से मांग की गई। जिस पर यहां पूर्व में भी शासन-प्रशासन की ओर से भूगर्भीय सर्वे करवाई गई। लेकिन भूगर्भवेताओं की ओर से यहां भूस्खलन जोन की बात कह कर सडक निर्माण की संस्तुति नहीं मिल सकी। लेकिन अब भूगर्भवेताओं द्वारा इन दिनों की गई सर्वे में सडक निर्माण की संस्तुति दे दी गई है। जिससे यहां अब गंणाई और दाडमी गांवों के ग्रामीणों को यातयात सुविधा मिलने की आस जग गई है। स्थानीय निवासी ताजबर सिंह और मनोहर का कहना है कि सडक सुविधा मिलने से जहां ग्रामीणों को अपने गंतव्य तक जाने के लिये पैदल दूरी नहीं नापनी होगी। वहीं ग्रामीण अपने उपज को सुगमता से बाजारों तक पहुंचा सकेंगे।
क्या कहते है अधिकारी
पातलगंगा-गणाई सडक निर्माण के लिये भूगर्भवेताओं द्वारा संस्तुति दे दी गई है। प्रथम चरण के लिये पतालगंगा से गंड़ाई गांव तक कार्य योजना तैयार की जा रही है। शीघ्र वन भूमि हस्तांतरण की प्रक्रिया शुरु की जाएगी।
धन सिंह रावत, अधिशासी अभियंता, लोनिवि गोपेश्वर।

To Top