सड़क पर बना गड्ढ़ा बना खतरा, दुकान में घुसा ट्रक

Publish 12-02-2019 17:55:32


सड़क पर बना गड्ढ़ा बना खतरा, दुकान में घुसा ट्रक

   
अल्मोड़ा  | 
दुग्ध उत्पादकों दुग्ध सचिवों ने दुग्ध समितियों के समस्याओं के सबन्ध बैठक की जिसमें वक्ताओं ने कहा वर्तमान में सरकार द्वारा दुग्ध समितियों में जो डीपीएमसीयू को (दुग्ध मांप एवंज जांच मशीन) लगाई जा रही है। उसकी गुणवक्ता अत्यन्त खराब है। व जांच सही से नही कर रही है । जिससे समितियों में वाद विवाद हो रहा है। वक्ताओं ने बैठक में मांग की कि दुग्ध मांप जांच मशीन की खरीद की जांच की जायं । साधारणतया समिति में चुनाव होने के बाद ही चुने गये प्रतिनिधि दुग्ध संघ के चुनाव में मतदाता होते हैं।  किन्तु इस बार चुने प्रतिनिधियों की प्रतिवर्ष दूध देने के की जांच की जा रही हैं। जिसका सहकरिता नियम अधिनियम में ऐसा कोई प्रवाधान नहीं है। जिसे प्रतिति होता है। चुने प्रतिनिधियों निर्वाचन से हटाने की साजिस की जा रही है। दुग्ध उत्पादको  ने कहा जहां दुग्ध सघं में घाटे के बात कर रहे है। दुग्ध क्रय मूल्य नही बढ़या है। वहीं प्रबन्ध कमेटी के कार्यकाल में अन्तिम चरण में प्रशिक्षिण के नाम से भ्रमण कराकर लाखो रुपये खर्च किये जा रहे है। जिसकी उच स्तरी जांच की मांग की गयी है। तथा जिलाधिकारी के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री दुग्ध विकास मंत्री प्रधान प्रवंधक दुग्ध सघं को ज्ञापन प्रेषित किया । बैठक में गिरिश चन्द्र खोलिया, कुन्दन सिंह, गीता देवी, विमला देवी, मोहन सिंह चौहान, देवेन्द्र सिंह, राहुल गुणवक्त आदि लोग उपस्थित थे ।

To Top