इंस्पायर अवार्ड कार्यक्रम का रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से हुआ आगाज, चार फीट बर्फ में चलकर कार्यक्रम मे पहुंचे बाल वैज्ञानिक

Publish 30-01-2019 22:20:48


इंस्पायर अवार्ड कार्यक्रम का रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से हुआ आगाज, चार फीट बर्फ में चलकर कार्यक्रम मे पहुंचे बाल वैज्ञानिक

गोपेश्वर/चमोली(जगदीश पोखरियाल)। चमोली जिला मुख्यालय के राजकीय इंटर कालेज गोपेश्वर में बुधवार को जनपद स्तरीय इंस्पायर अवार्ड कार्यक्रम रंगांरग सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ शुरू हुआ। यह कार्यक्रम दो दिनों तक चलेगा। कार्यक्रम में जिलेभर के 346 बाल वैज्ञानिक भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम का शुभारंभ नगर पालिकाध्यक्ष सुरेंद्र लाल ने किया।
जीआईसी सभागार में आयोजित कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम का आजाग किया। कार्यक्रम में बाल वैज्ञानिकों द्वारा विज्ञान संबंधित विषयों के मॉडल और शोध प्रस्तुत किये गये। इस दौरान मुख्य शिक्षा अधिकारी एलएम चमोला ने कहा कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य विज्ञान विषय को रुचिकर बनाना और विज्ञान को लेकर छात्रों में प्रयोग, अनवेषण और अनुसंधान की प्रवृत्ति को बढावा देना है। बताया की जिला स्तर पर चयनित प्रतिभागी राज्य स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेंगे। इस मौके पर कार्यक्रम के जनपद प्रभारी आत्म प्रकाश डिमरी, शिक्षा अधिकारी माध्यमिक आशुतोष भंडारी, शिक्षा अधिकारी बेसिक नरेश हल्दियानी, मनोज तिवारी, अनूप खंडूरी, खीम सिंह कंडारी आदि मौजूद थे।

चार फीट बर्फ में चलकर कार्यक्रम मे पहुंचे इराणी के बाल वैज्ञानिक
जनपद स्तरीय इंस्पायर अवार्ड कार्यक्रम में जहां बाल वैज्ञानिकों के शोध और मॉडल ने लोगों को आकर्षित किया। वहीं कार्यक्रम भाग लेने आए इराणी गांव बाल वैज्ञनिकों का जोश देखने लायक था। बता दें कि जिले में हो रही बर्फवारी के चलते इन दिनों इराणी गांव करीब 4 फिट बर्फ की आगोश में है। जिससे यहां आवाजाही करना मुश्किल बना हुआ है। लेकिन इराणी गांव से इंस्पायर आवार्ड के कार्यक्रम में शामिल होने के जोश के चलते बाल वैज्ञानिक कलावती, महिमा और नितिन कडाके की ठंड में बर्फ पर चल कर कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे। इन बाल वैज्ञानिकों के हौंसले का आयोजकों सहित मुख्य शिक्षा अधिकारी ने तारीफ की।

To Top