इंसानों से ज्यादा पशु प्यार करते हैं अपने बच्चों से

Publish 02-03-2019 20:21:33


इंसानों से ज्यादा पशु प्यार करते हैं अपने बच्चों से

लखनऊ/ उत्तर प्रदेश (रघुनाथ प्रसाद शास्त्री): अपने बच्चों को प्यार इंसानों से ज्यादा पशुओं को होता है जो अपने मां बाप को कोई सहयोग नहीं कर सकते चाहते हुए भी।
बताते चलें की इंसान अपने बच्चों का पालन पोषण प्यार इसलिए करते हैं की वह उनके बुढ़ापे का सहारा बनेगे और  नाम रोशन करेंगे इसलिए वह अधिक मेहनत और कोशिश करके उन्हें पढ़ाते लिखाते और शादी विवाह करते हैं। और उन्हें नौकरी या बिजनेस करवाते हैं लेकिन जो पशु अपने बच्चों को प्यार करते हैं और उन्हें खिलाते पिलाते वह अपने शरीर से दूध पिला कर उन्हें बड़ा करते हैं वह उनके लिए क्या कर सकते हैं और चाहते हुए भी उनके बच्चे उन्हें क्या सहयोग कर सकते हैं यह सब कुछ वह जानते हैं उसके बाद भी वह अपने बच्चों को प्यार करते है।और कुछ पशुओं के कई -कई बच्चे होते हैं वह सभी बच्चों को दूध पिलाते हैं और जो भी खाने को लाते हैं वह सभी बच्चों को खिलाते हैं । असली प्यार पशु ही अपने बच्चों से करते हैं क्योंकि निस्वार्थ भाव होता है अपने बच्चों से उन्हें किसी तरह का कोई स्वार्थ नहीं होता है। केवल बच्चे होने का प्यार होता है इसलिए वह अपने बच्चों को पालन करके बड़ा करने में पूरा योगदान करते हैं और उन्हें सुरक्षित रखने का पूरा प्रयास करते हैं। पशुओं में शेर सुअर और कुत्ते व बिल्ली यह अपने बच्चों को ऐसी कला  सिखाते हैं जिससे कि जीवन में वह अपने खाने की व्यवस्था स्वयं कर सके।

To Top