जाने बसंत ऋतु के बारे में, वर्ष का सबसे पसंदीदा मौसम होता है बसंत ऋतू

Publish 22-02-2019 22:35:06


जाने बसंत ऋतु के बारे में, वर्ष का सबसे पसंदीदा मौसम होता है बसंत ऋतू

लखनऊ/ उत्तर प्रदेश (रघुनाथ प्रसाद शास्त्री): बसंत ऋतु बहुत ही सुहावनी ऋतु है जो फ़रवरी और मार्च से शुरू होती है। वसंत ऋतु वर्ष का सबसे पसंदीदा मौसम है और सभी के द्वारा अन्य मौसमों से अधिक पसंद किया जाता है। भारत में वसन्त ऋतु मार्च, अप्रैल और मई के महीने में आती है। यह सर्दियों के तीन महीनों के लम्बे समय के बाद आता है, जिसमें लोगों को सर्दी और ठंड से राहत मिलती है।

“वसन्त ऋतु में तापमान में नमी आ जाती है और सभी जगह हरे-भरे पेड़ों और फूलों के कारण चारों ओर हरियाली और रंगीन दिखाई देती है। वसंत ऋतु के आगमन पर सब लोग वसंत पंचमी का त्यौहार मनाते हुए खुशियाँ मनाते हैं। वसंत के आने पर सर्दियों का अंत होता है और सब जगह खुशहाली छा जाती है। एक लम्बे इंतजार के बाद वह समय आता है, जब हम हल्के कपड़े पहनना शुरु करते हैं और प्रायः कभी भी घर से बाहर जा सकते हैं। छोटे बच्चे पतंग उड़ाते हैं। इस मौसम की शुरुआत में होली का त्योहार आता है, जब सभी रंगों और पानी के साथ होली खेलने के द्वारा इस मौसम का आनंद लेते हैं। भारत में वसंत ऋतु सर्दियों के मौसम के बाद मार्च, अप्रैल और मई के महीने में आती है। यह गर्मियों के मौसम के रूप में खत्म होता है। भारत में वसंत मार्च के महीने में शुरू होता है और मई के महीने में खत्म होता है। भारत के कुछ भागों में, लोग इस मौसम का आनंद गर्म वातावरण के कारण पूरी तरह से नहीं ले पाते हैं।”

 


हरी भरी वसंत ऋतु
पूरी वसंत ऋतु के मौसम के मौसम के दौरान तापमान सामान्य रहता है, न तो सर्दी की तरह बहुत अधिक ठंड होती है और न ही गर्मी की तरह बहुत गर्म हालांकि, अंतर में यह धीरे-धीरे गर्म होने की शुरुआत कर देता है। रात को मौसम और भी अधिक सुहावना और आरामदायक हो जाता है। वसंत ऋतु बहुत प्रभावशाली होती है।जब यह आता है, तो प्रकृति में सब कुछ जाग्रत कर देता है; जैसे- यह पेड़, पौधे, घास, फूल, फसलें, पशु, मनुष्य और अन्य जीवित वस्तुओं को सर्दी के मौसम की लम्बी नींद से जगाती है। मनुष्य नए और हल्के कपड़े पहनते हैं, पेड़ों पर नई पत्तियों और शाखाएं आती हैं और फूल चांदी और रंगीन हो जाते हैं। सभी जगह मैदान घासों से भर जाते हैं और इस प्रकार पूरी तरह प्रकृति हरी-भरी और ताजी लगती है। इस मौसम में बसंत पंचमी का त्योहार मनाया जाता है बसंत पंचमी के दिन लोग पतंग बाजी करते हैं आसमान में रंग-बिरंगे पतंग उड़ाते हैं। इस दिन लोग पिले रंग के कपड़े पहनते हैं। घर-घर बसंती हलवा, चावल और केसरी रंग की खीर बनाई जाती है। इस दिन कई जगह मेले भी लगते हैं। भारत में वसंत ऋतु को सबसे सुहावना मौसम माना जाता है। प्रकृति में सब कुछ सक्रिय होता है और पृथ्वी पर नए जीवन को महसूस करते हैं। वसंत ऋतु सर्दियों के तीन महीने के लम्बे अन्तराल के बाद बहुत सी खुशियाँ और जीवन में राहत लाती है। वसंत ऋतु सर्दियों के मौसम के मौसम के बाद और गर्मियों के मौसम से पहले, मार्च, अप्रैल और मई के महीने में आता है।


वसंत ऋतु का आगमन
वसंत ऋतु का आगमन सभी देशों में अलग-अलग होने के साथ ही तापमान भी अलग-अलग देशों में अलग-अलग होता है। कोयल पक्षी गीत, गाना शुरू कर देती है और सभी आम खाने का आनंद लेते हैं। प्रकृति में सभी जगह फूलों की खुशबू और रोमांच से भरे हुए होते हैं, क्योंकि इस मौसम में फूल खिलना शुरु कर देते हैं, पेड़ों पर नए पत्ते आते हैं, आसमान पर बादल छाए रहते हैं, कलकल करती हुई नदियाँ बहती है आदि। हम कह सकते हैं कि, प्रकृति आनंद के साथ घोषणा करती है कि, वसंत आ गया है: अब यह उठने का समय है। इस मौसम की खूबसूरती और चारों ओर की खुशियाँ, मस्तिष्क को कलात्मक बनाता है और आत्मविश्वास के साथ नए कार्य शुरु करने के लिए शरीर को धड़कता है। सुबह में चिड़ियों की आवाज और रात में चाँद की चाँदनी, दोनों ही बहुत सुहावने, ठंड और शान्त हो जाते हैं। आसमान बिल्कुल साफ दिखता है और हवा बहुत ही ठंडी और ठंडी करने वाली होती है। यह किसानों के लिए बहुत महत्वपूर्ण मौसम होता है, क्योंकि उनकी फसलें खेतों में पकने लगती हैं और यह समय उन्हें काटने का होता है।

To Top