*** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

सभी देश एवं प्रदेशवासियों को गणतन्त्र दिवस की बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनायें - नवीन जोशी, कार्यालय बाल विकास थैलीसैण , पौड़ी गढ़वाल

26-01-2019 15:35:21

तालबेहट,ललितपुर/यू.पी(प्रमोद सक्सेना)| अपराधी कितना भी शातिर क्यो ना हो वह पुलिस की सतर्क निगाह से बच नही सकता बस जरूरत है पुलिस अधिकारियों की कर्तव्य निष्ठा और चौकस निगाह की । यदि पुलिस अपनी निष्ठा से जब किसी अपराध की समीक्षा करती है तो अपराध की सभी परते स्वतः खुलने लगती है और अपराधी पकड़ा ही जाता है ।
तालबेहट के कब्रिस्तान के पीछे मंगलवार को एक नग्न पत्थर से कुचली लाश पुलिस को मिलती है । मृतक की पहचान खांदी मजरा गणेशपुरा निवासी प्रान सिंह पुत्र स्व.पूरन जो दूध बेचने का काम करता था के रूप में होती है । लाश का नग्न होना, मामला अवैध संबंध की ओर इशारा कर रहा था । ललितपुर पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह के निर्देशन में सीओ तालबेहट विनोद कुमार सिंह,कोतवाली पुलिस,स्वाट एवं सर्विलांस टीम की सूझबूझ ने उक्त अंधे हत्या कांड का खुलाशा कर तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया ।
आज पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह ने अंधे कत्ल से पर्दा उठा कर हत्या करने वाले तीनो अपराधी गणेश पुत्र बैजनाथ कुशवाहा निवासी खांदी मजरा खाँच,पुष्पेंद्र पुत्र इमरत अहिरवार निवासी बस स्टैंड,लखन श्रीवास पुत्र छंदी लाल निवासी कांशी राम कालौनी को गिरफ्तार कर मीडिया के सामने प्रस्तुत किया ।हत्यारोपियों से मिली जानकारी के अनुसार अपराधियों ने बताया कि हम तीनों चैकडेम पर शराब पी रहे थे उसी समय प्रान सिंह भी बही बैठा था ,उक्त अपराधियों ने प्रान सिंह से शराब और बीड़ी के लिये रुपये मांगे ना देने पर लूट के इरादे से प्रान सिंह की हत्या कर जेब में मिले 500 रुपया तथा मोबाइल लूट लिया तथा किसी को उनपर शक न हो इसलिये प्रान सिंह को नग्न कर उसका पत्थरों से सिर कुचल दिया और वहाँ से भाग गये । नग्न लाश को देखकर मामला अवैध संबंधों या प्रतिरोध के कारण हत्या किया जाना प्रतीत हो रहा था परंतु पुलिस की सतर्क निगाह से मामला छिप ना सका और पूरा मामला खुल गया ।