नए प्रेमी के साथ प्रेमिका ने पुराने प्रेमी को उतारा था मौत के घाट

Publish 30-12-2017 20:15:37


नए प्रेमी के साथ प्रेमिका ने पुराने प्रेमी को उतारा था मौत के घाट


प्रेम में रोढ़ा बना था पहला प्रेमी, प्रेसवार्ता कर किया खुलासा
उन्नाव, यूपी (संकल्प दीक्षित)।
नए प्रेमी के साथ प्रेमिका पुराने प्रेमी की गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार कर फरार हो गयी थी। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने अभियुक्त से पूछतांछ की। पुलिसिया पूंछतांछ के दौरान सारी हकीकत खुलकर सामने आ गयी। कार्यवाही के बाद पुलिस ने अभियुक्तों को सलाखों के पीछे भेज दिया हैं।
    शनिवार को पुलिस लाइन्स सभागार में अपर पुलिस अधीक्षक अष्टभुजा प्रसाद सिंह ने प्रेसवार्ता की। वार्ता के दौरान उन्होने बताया कि सोहरामऊ थाना क्षेत्र के सेमरा गांव निवासी सुरेन्द्र पुत्र स्व0 प्रकाश की गला दबाकर हत्या की गयी थी। मृतक के भाई  छेदीलाल ने गांव निवासी अनिल कुमार पुत्र स्व0 राम आसरे व उसकी पत्नी केकती के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। एसपी पुष्पांजलि के निर्देश पर सीओ हसनगंज भीम कुमार गौतम ने टीम को खुलासा करने में लगाया। जांच में  जुटी टीम ने नामित अभियुक्तों को हिरासत में लेकर पूंछतांछ की तो पत्नी केकती ने सारा सच उगल दिया। उसने पुलिस को बताया कि मृतक सुरेन्द्र से उसके अवैध सम्बन्ध थे। दोनो करीब 6 सालों से सम्बन्ध स्थापित थे। इसी बीच गांव के ही रहने वाला अंकित उर्फ लोहा सिंह पुत्र स्व0 सुरेश कुमार से उसे प्रेम हो गया। दोनो का प्रेम परवान चढ़ा तो पुराना प्रेमी बीच में रोढ़ा बनने लगा जिसको हटाने के लिए दोनो ने योजना बनाई। 27 दिसम्बर को अंकित अपनी प्रेमिका के घर पहुंचा इसी बीच वहां उसका पुराना प्रेमी सुरेन्द्र भी पहुंच गया। दोनो में  कहासुनी होने लगी। जिससे केकती और अंकित एकराय होकर सुरेन्द्र को गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया, और लाश को गांव बाहर फेंक फरार हो गए। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर सीओ हसनगंज भीम कुमार गौतम के नेतृत्व में पुलिस लगातार खुलासे का प्रयास कर रही थी। जिसमें शनिवार को सफलता हासिल हुई। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में एसओ सोहरामऊ राजेन्द्र कांत शुक्ला, एसआई रामबाबू सिंह, उमेश त्रिपाठी, महिला सिपाही पूजा गुप्ता समेत आदि पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

To Top