जब पिता ने अपनी बेटी को ही काटकर दफनाया

Publish 26-12-2017 12:38:37


जब पिता ने अपनी बेटी को ही काटकर दफनाया

उन्नाव यूपी (संकल्प दीक्षित)|  पिता ने अपनी बेटी की नृशंस हत्या कर उसके शव को काट कर अलग अलग जगह पर जमीन में गाड़ दिया था। पुलिस ने शव को बरामद करने के लिए पिता की निशानदेही पर सोमवार की देर रात तक बताई गई जगह पर खुदाई कराई गई। खुदाई के दौरान बेटी का सर पुलिस ने बरामद कर लिया है। जबकि शरीर के अन्य हिस्से अभी बरामद नहीं हुए हैं। शरीर के अन्य अंगों की बरामदगी के लिए पुलिस मंगलवार को दुबारा फिर से खुदाई करवाएगी। मौके पर नायब तहसीलदार, सदर सीओ, सफीपुर क्षेत्रीय लेखपाल व बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

मांखी थाना क्षेत्र के भदेसा गांव के मजरा हिमांचल खेड़ा गांव निवासी रामकुमार पुत्र छंगा की नाबालिग बेटी अनुष्ठा का गांव के ही निवासी वउवा पुत्र राजाराम पाल के साथ दोस्ती थी। पिता को इसकी जानकारी हुई तो उसने डांट लगाई और आइंदा से उससे दूर रहने की हिदायत दी। मगर बेटी के न मानने पर पिता ने ही घर में धारदार हथियार से काट कर उसकी हत्या कर दी और लाश के कई टुकड़े कर उन्हें अलग अलग जगह पर दफना दिया और 28 अगस्त 2017 को अपनी नाबालिग बेटी को बहला फुसला कर भगा ले जाने के मामले में वऊवा को नामित करते हुए पुलिस में केस दर्ज करा दिया था। मगर इस दौरान वह एक बार भी थाने में पैरवी के लिए नहीं आया। उधर गांव में इस बात की चर्चा शुरू हुई। तब 22 दिसंबर को पुलिस लड़की के पिता व प्रेमी को पकड़ कर थाने ले गई। जहां पूछताछ में उसके पिता ने कबूल किया कि उसने बेटी की हत्या कर दी है। ये सुनने के बाद पुलिस के बीबी रोंगटे खड़े हो गए।  सोमवार की देर रात नायब तहसीलदार सदर सुदीप तिवारी, लेखपाल सत्यम शर्मा व एसओ मांखी अशोक सिंह भदौरिया के साथ बताई गई जगह पर खुदाई करवाई तो जहां से पुलिस के गड़ा हुआ सिर मिल गया है जबकि शरीर के अन्य अंगों की बरामदगी के लिए मंगलवार को पुलिस फिर से खुदवाई कराकर बचे हुए अंगों की बरामदगी करेगी।

To Top