उन्नाव : मंगलवार को खुदाई में पुलिस को सिर्फ मोबाइल और हड्डियां मिली

Publish 26-12-2017 21:23:04


उन्नाव : मंगलवार को खुदाई में पुलिस को सिर्फ मोबाइल और हड्डियां मिली

 पिता ने बेटी की हत्या कर किए थे कई हिस्से
उन्नाव,यूपी (संकल्प दीक्षित)।
मांखी थाना क्षेत्र में बेटी की हत्या कर पिता ने उसके शव को टुकड़ों में बांट कर अलग अलग जगह जमीन में गाड़ देने का मामला प्रकाश में आया था। लाश बरामद करने के लिए पुलिस ने सोमवार की देरशाम खुदाई करवायी थी। इस दौरान पुलिस को सर बरामद हुआ था। मंगलवार को शव की खोज करने के लिए पुलिस फिर से खेतों मे खाक छानती दिखी। क्षेत्रीय लोगो की निशानदेही पर एक स्थान पर खुदाई कराई गयी जहां से मोबाइन और कुछ हड़िड़यां भी बरामद हुई। जिन्हें फॉरेंसिक जांच के लिए भेजने की बात कही जा रही है। हालांकि पुलिस के हाथ कोई बड़ी सफलता हाथ नही लगी।


 थाना क्षेत्र के हिमांचलखेड़ा गांव निवासी रामकुमार रैदास पुत्र छंगा के घर में शक के आधार पर खुदाई कराई गई। मगर वहां से पुलिस को कुछ नहीं मिला तो ग्रामीणों से बात की और गांव के बाहर नाले के किनारे राम नरेश यादव पुत्र भगवान दीन निवासी पूरा निस्पंसारी के खेत में खुदाई कराई गई। जहां एक मोबाइल फोन व हड्डी तथा कुछ मांस के टुकड़े के अलावा कुछ नहीं मिला। तब फिर महुआ के बाग के पास अरहर के खेत में कुछ हड्डी बरामद की गई। इसके बाद पुलिस कई जगह पर खोजबीन करती रही। मगर पुलिस के कोई खास सफलता नहीं मिल सकी। तब सीओ सफीपुर कुंवर बहादुर सिंह ने बताया कि ग्रामीणों की बात के आधार पर हमने खुदाई कराई। जहां एक मोबाइल फोन व हड्डी के टुकड़े और मांस मिला। गड्ढे में नमक पड़ा हुआ था। बरामद किए गए हड्डी के टुकड़ों को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज कर जांच कराई जाएगी। उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी। क्योंकि मृतका का पिता गुमराह कर रहा है। वही मृतका के शव को बरामद करने के लिए गांव पहुंचे सीओ सफीपुर कुं वर बहादुर सिंह, नायब तहसीलदार सदर सुदीप तिवारी, ट्रेनी सीओ रुचि गुप्ता, लेखपाल सत्यम शर्मा, एसओ मांखी अशोक सिंह भदौरिया ने हत्यारे पिता के छोटे भाई राम किशन से इस संबंध में जानकारी की। मगर उसने अनभिज्ञता जताई। वहीं ग्रामीणों में इस बात की चर्चा है कि घटना के बाद से पत्नी अपने मायके दरियापुर अजगैन दोनों बेटों को लेकर चली गई थी। बीच में वह दो दिन के लिए गांव आई और फिर चली गई। मौके पर सीओ सफीपुर ने जब उससे पूछताछ की, तो उसने बताया कि हत्या करने के बाद शव को बोरी में भरकर ले गए थे। मगर उसको कहां पर दफनाया इसकी जानकारी नहीं है। उसने दो बोरी नमक खरीद कर लाने की बात भी कही है।

To Top