पुलिस ने बदमाशों से 2200 रुपये व तीन तमंचे किए बरामद

Publish 05-01-2018 18:59:54


पुलिस ने बदमाशों से 2200 रुपये व तीन तमंचे किए बरामद

सम्भल,यूपी (गुफरान) |  बीस दिन पहले नरौली के सर्राफ से की थी लूट सम्भल: बनियाठेर थाना क्षेत्र में बीस दिन पहले सर्राफ के साथ लूटपाट करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनके कब्जे से 2200 रुपये व तीन तमंचे, कारतूस, मोबाइल, तीन बाइक बरामद की है। जबकि तीन आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। एएसपी ने प्रेस वार्ता करके घटना का खुलासा किया है। चारों आरोपी पहले भी लूट की घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं।
             नरौली निवासी नंदन शर्मा की नरौली में ही सर्राफ की दुकान है। वह प्रत्येक दिन शाम को रुपये लेकर चन्दौसी जाता है। 15 दिसंबर को सात बदमाशों ने चन्दौसी जाते समय सर्राफ की कार को रोक लिया था और 14 हजार रुपये लूट लिए थे। उस समय तो सर्राफ ने कई लाख रुपये की लूट बताई थी लेकिन बाद पता चला कि सर्राफ के मात्र 14 हजार रुपये लूटे गए। घटना के बाद पुलिस बदमाशों को पकड़ने के लिए लग गई। बुधवार को नरौली के पास पुलिस को कुछ संदिग्ध लोग दिखाई पड़े तो पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें पकड़ लिया। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम कमरुद्दीन, फैजान मोहल्ला हाता थाना इस्लामनगर जनपद बंदायू, राजकुमार निवासी पसऊ टौला राज्य बिहार, कौशर निवासी शहजाहनावाद थाना रजपुरा बताया। पूछताछ के दौरान चारों बदमाशों ने बताया कि फूलमियां मोहल्ला पछाया थाना इस्लामनगजनपद बंदायू, सलमान निवासी नसीरपुर थाना सहसबान जिला बंदायू, फैसल निवासी गुन्नौर के साथ 15 दिसंबर को सर्राफ के साथ 14 हजार रुपये की लूट की थी। एएसपी पंकज कुमार पांडेय ने बताया कि चोरों आरोपियों के कब्जे से लूटे गए रुपये में से 2200 रुपये, तीन तमंचे, कारतूस, लूटा गया मोबइल, घटना में प्रयुक्त तीन बाइक बरामद की है। उन्होंने की घटना का खुलासा करने पर एएसपी द्वारा बनियाठेर थानाध्यक्ष प्रवीन सोलंकी, सर्विलांस प्रभारी संजय सिंह और स्वाट टीम प्रभारी को दस हजार का पुरस्कार दिया है।

पहले भी लूट की घटनाओं को अंजाम दे चुके है बदमाश

सम्भल: लूट की घटनाओं का खुलासा करते हुए एएसपी पंकज पांडेय ने बताया कि बदमाश पहले भी लूट की घटनाओं का अंजाम दे चुके है। इन्होंने वर्ष 2015 में 20 लाख रुपये का बैंक का केश, दिल्ली और उत्तराघंड में भी लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि यह बदमाश फेरी लगाकर कपड़ा बेचने का काम करते है और उसी दौरान किसी को निशाना बना लेते है।

नरौली में शादी कार्यक्रम में आए थे बदमाश
सम्भल: नरौली में लूट की घटना को अंजाम देने से पहले वह एक शादी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए नरौली आए थे। वही पर उन्होंने सर्राफ को कार में रुपये ले जाते हुए देखा था। तभी से बदमाशों ने लूट करने की तैयारी शुरू कर दी और 15 दिसंबर को घटना को अंजाम दे दिया।


लूट से पहले एक चेयरमैन में गोल्ड स्टोर पर एकत्र हुए थे बदमाश

सम्भल: नरौली के सर्राफ के साथ लूट की घटना को अंजाम देने वाले बदमाश घटना से पहले बंदायू जनपद के एक चेयरमैन के कोल्ड स्टोर पर एकत्र हुए थे। बदमाशों ने बताया कि लूटपाट करने बाद सभी लोग कोल्ड स्टोर में पहुंचे और वही पर रुपये का बंटवारा किया।

To Top